जशपुर में दो दुष्कर्म; दो आरोपी बिहार से और एक आरोपी हिमाचल से गिरफ्तार

0
7

जशपुर: jashpur crime news जशपुर सिटी कोतवाली क्षेत्र के लोदाम चौकी पुलिस ने दुष्कर्म के दो अलग अलग मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. जिसमें से एक मामले में नाबालिग को बहला फुसलाकर आरोपी बिहार ले गया और दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया. वहीं दूसरे मामले में शादीशुदा महिला के साथ आरोपी ने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया.

केस 1: घटना के संबंध में पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार लोदाम क्षेत्र निवासी प्रार्थी ने रिपोर्ट दर्ज कराया कि 3 अप्रेल 2022 की सुबह से इसकी 16 वर्षीय भतीजी घर से निकलकर कहीं चली गई. प्रार्थी ने बताया कि कोई अज्ञात व्यक्ति उसकी नाबालिग भतीजी को बहला फुसलाकर अपने साथ ले गया. जिसके बाद प्रार्थी की रिपोर्ट पर लोदाम पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की.

पुलिस की जांच के दौरान मुखबिर की सूचना एवं सायबर सेल की मदद से पुलिस ने 16 वर्षीय नाबालिग लड़की को पूर्णिया (बिहार) से 4 अप्रैल को ही छुड़ा कर परिजनों को सौंप दिया था. वहीं पुलिस की पूछताछ में नाबालिग लड़की ने बताया कि आरोपी अमृत राज ठाकुर उसे बहला फुसलाकर अपने साथ ले गया और उसका दुष्कर्म किया. जिस पर पुलिस ने मामले में पास्को एक्ट सहित 376 का मामला भी दर्ज कर लिया. वहीं घटना के बाद से आरोपी अमृत राज ठाकुर फरार हो गया था. वहीं पुलिस ने विशेष टीम को आरोपी को पकड़ने के लिए बिहार भेजा जिसने आरोपी को पूर्णिया बिहार से गिरफ्तार किया.

केस 2: दूसरा मामला भी लोदाम थाना क्षेत्र का ही है. जहां 20 वर्षीय विवाहिता महिला ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी. उसने बताया था कि 23 सितम्बर को वह अपने ससुराल से नाराज होकर अपने मायका जाने के लिये जशपुर की ओर निकली थी. उसी दौरान रास्ते में उसे ऑटो चालक उमाशंकर मिश्रा ने अपने ऑटो के साथ मिला. पीड़िता के अनुसार कुछ पैसे देने के नाम पर दिन भर अपने ऑटो में घुमाता रहा. फिर रात होने पर झूठ बोलकर अपने एक कच्चे मकान में पीड़िता को ले जाकर दरवाजा बंद कर दिया. जिसके बाद उसने जान से मारने की धमकी देकर पीड़िता से मारपीट कर गला दबाकर जबरन दुष्कर्म किया.

पीड़िता की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी ऑटो चालक के विरुद्ध धारा 342, 323, 506, 376 का मामला दर्ज किया. घटना के बाद आरोपी फरार हो गया था. जिसकी पुलिस तलाश कर रही थी. इस दौरान पुलिस को मुखबिर एवं साइबर सेल की मदद से पता चला कि आरोपी हिमाचल प्रदेश में छुपा हुआ है. पुलिस ने टीम गठित कर आरोपी को पकड़ने के लिए हिमाचल प्रदेश भेजा और आरोपी को ग्राम धरमपुर जिला सोलन (हिमाचल प्रदेश) से गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया.

समाचार पर आपकी राय: