शिमला के समरकोट में देवदारों के अवैध कटान मामले में दो आरोपी गिरफ्तार

0
1

शिमला: जिलाशिमला के समरकोट में अवैध तरीके से देवदार के पेड़ों के कटान का मामला सामने आया है. यहां पर अवैध तरीके से जंगल से काटे गए देवदार के स्लीपर बरामद किए गए हैं. शिमला पुलिस ने अब फॉरेस्ट गार्ड की शिकायत पर इस मामले में एफआईआर दर्ज की है. वहीं, मामले में पुलिस ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार भी किया है. दोनों आरोपी नेपाली मूल के बताए जा रहे हैं. (11 Deodar Sleepers Caught In Shimla)

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक समरकोट बीट की फॉरेस्ट गार्ड रीता ने पुलिस को बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि समरकोट के घ्रेमा में पेड़ काटे जा रहे हैं. जिसके बाद वे अपने अधिकारी बीओ संदीप भारद्वाज और एक अन्य फॉरेस्ट गार्ड मनीषा के साथ मौके पर गई. जब वे घ्रेमा पहुंचे तो उन्होंने देखा कि देवदार के पेड़ के 11 स्लीपर को दो नेपाली मजदूर वहां से ले जाने की कोशिश कर रहे थे. इनकी कीमत लगभग 88 हजार रुपए है. (Illegal Cuting of deodar trees in shimla)

शिकायतकर्ता का कहना है कि माैके पर ही देवदार के स्लीपर बरामद किए गए हैं. इसके अलावा माैके पर मौजूद दोनों मजदूरों जिनमें खड़ग बहादुर और विमल थापा को भी पुलिस के हवाले किया गया है. पुलिस की ओर से इस मामले में धारा 379, 34 एवं 32, 33 के तहत मामला तहत दर्ज किया गया है.

पुलिस अब गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है कि, आखिर किसके कहने पर जंगल में कटान हो रहा था. पुलिस सूत्रों का कहना है कि इस अवैध कटान के पीछे कोई ओर ही मास्टर माइंड है. ऐसे में पुलिस अब इस मामले में और गिरफ्तारियां करेगी. (Deodar Sleepers Caught In Shimla) (Illegal Cuting of deodar trees in Summerkot)

बिलासपुर में चंदन के पेड़ों पर आरी चलाई: वहीं, बिलासपुर में एक बार फिर से चंदन के पेड़ों पर आरी चली है. ओयल गांव स्थित इको पार्क में चंदन के 9 पेड़ वन काटुओं ने काट डाले, लेकिन ग्रामीणों और पंचायत प्रतिनिधियों की सतर्कता से वन काटू पेड़ों को लेकर जाने में कामयाब नहीं हो सके. वन विभाग ने इन पेड़ों को कब्जे में लिया और सदर थाना में शिकायत पत्र दिया गया है.पंचायत प्रधान दिनेश कुमार ने बताया कि इको पार्क के पास जंगल में उन्होंने 9 पेड़ चंदन के कटे हुए मिले. जिला वन अधिकारी अवनी भूषण राय ने बताया कि शिकायत आई है और मामले की जांच की जा रही है.

समाचार पर आपकी राय: