एटीएम से 10 लाख की चोरी करने वाले दो आरोपी गिरफ्तार, एक राजस्थान और दूसरा हरियाणा का निवासी

0
2

ऊना: ऊना जिला के हरोली उपमंडल के तहत पंडोगा में 15 और 16 नवम्बर की रात्रि को हुई एटीएम लूट की वारदात की गुत्थी पुलिस ने सुलझा लिया है। इसके साथ ही पुलिस ने इस वारदात को अंजाम देने वाले 2 आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है, जिनमें से एक की पहचान राजस्थान के अलवर जिला के तहत खैरथल निवासी अरशद और दूसरे आरोपी की पहचान हरियाणा के पलवल निवासी साबिर के रूप में की गई है।

बुधवार को मामले का पटाक्षेप करते हुए एसपी अर्जित सेन ठाकुर ने बताया कि लूट के आरोपी वारदात से करीब एक हफ्ता पहले 3 बार ट्रक लेकर आलू की ढुलाई के बहाने यहां आ चुके हैं। वारदात को अंजाम देने के दौरान आरोपियों ने एटीएम चैंबर में घुसते ही स्प्रे पेंट से सीसीटीवी कैमरा को कवर करने का प्रयास किया। जिसके बाद उन्होंने गैस कटर से एटीएम मशीन को काटकर उसमें से करीब 10 लाख रुपए की राशि को उड़ा लिया। 

सीसीटीवी फुटेज व मोबाइल ट्रैकर की मदद से पकड़े आरोपी
एसपी ने बताया कि पुलिस ने एटीएम चैंबर और उसके साथ-साथ क्षेत्र के अन्य सीसीटीवी फुटेज के आधार पर और साथ ही इस क्षेत्र में अज्ञात मोबाइल फोन की उपस्थिति के आधार पर इन आरोपियों को ट्रेस किया। इसके बाद लूट की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों में से 2 अरशद और साबिर को पंजाब के मंडी गोविंदगढ़ से पकड़ने में सफलता हासिल की।

आरोपियों के कब्जे से एटीएम मशीन को काटने के लिए इस्तेमाल किए गए सभी उपकरण भी बरामद कर लिए गए हैं। एसपी ने बताया कि लूटी गई राशि की रिकवरी और आरोपियों की इस वारदात को लेकर स्थानीय स्तर पर किसी प्रकार के कनैक्शन के संबंध में अभी जांच जारी है।

पंजाब और अन्य राज्य में अच्छा खासा क्रिमिनल रिकॉर्ड  
बताया जा रहा है कि आरोपी आलू की ढुलाई के काम के चलते हिमाचल में पहले भी आते-जाते रहे हैं जबकि पंजाब और अन्य राज्य में इनका क्रिमिनल रिकॉर्ड भी अच्छा खासा बताया जा रहा है। सूत्रों की मानें तो इन आरोपियों पर पंजाब में ही एटीएम लूट की वारदातों को अंजाम देने के आरोप में करीब 1 करोड रुपए की चोरी के कई मामले दर्ज हैं। 

समाचार पर आपकी राय: