पांचवी कक्षा में पढ़ रहे छात्र के परिजनों ने स्कूल बस रुकवा कर छात्रा को पीटा, जाने क्या है मामला

0
3

बोकारो के बेरमो इलाके के रीजनल कॉलोनी के पास स्कूली बच्चों की मनमुटाव और झगड़े में एक परिवार भी शामिल हो गया. उसने बस को रुकवाकर शिवांगी सिंह नाम की छात्रा को मारा-पीटा, गाली-गलौज की.

पीड़ित छात्रा ने मारपीट का आरोप मंजीत सिंह और उसके परिजनों पर लगा है. उसका कहना है कि उसके परिवार के लोगों ने स्कूल बस को रुकवा कर मारपीट की. परिवार की ऐसी गुंडई से बस में सवार सभी स्कूली छात्राओं में दहशत फैल गई.

छात्रा शिवांगी सिंह ने स्थानीय थाने में शिकायत दर्ज कराई कि वह डीएवी स्कूल में 12वीं की छात्रा है. स्कूल जाने के दौरान रिजनल कॉलोनी ढोरी में उसी स्कूल में 5वीं कक्षा में पढ़ने वाली तृषा कुमारी के पिता मंजीत सिंह, उनकी पत्नी व एक अन्य महिला ने बस रुकवा दी और बस में चढ़कर मेरी बहन पलक को खोजने लगे.

शिवांगी ने कहा- मैंने उन्हें बताया कि वह आज नहीं आई है, जिसके बाद दोनों महिलाएं गाली देते हुए मुझे पीटने लगीं. जब मैंने महिलाओं को धक्का दिया तो मंजीत सिंह ने उसका गला दबाकर मारपीट की. रेलवे कॉलोनी करगली निवासी मंजीत सिंह की बेटी तृषा और जीएम कॉलोनी ढोरी पहाड़ी धौड़ा निवासी जितेंद्र सिंह की बेटी पलक के बीच स्कूल बस में सीट और बैग रखने को लेकर विवाद हुआ था.

समाचार पर आपकी राय: