Ragging; छात्रावास में सीनियर्स ने जूनियर छात्र को किया प्रताड़ित, कॉलर से हाथ हटाया तो कर दी पिटाई

0
2

संबलपुर. सरकारी वीर सुरेंद्र साई यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी (VSSUT-Burla) में रैगिंग का मामला सामने आने के बाद पुलिस ने एक्शन लिया है। इंजीनियरिंग के एक छात्र ने आरोप लगाया कि छात्रावास में उसके सीनियर्स ने उसे प्रताड़ित किया।

पुलिस के अनुसार, इलेक्ट्रॉनिक्स और टेलीकम्युनिकेशन विभाग के सेकंड ईयर के छात्र ने आरोप लगाया कि उसे चौथे वर्ष के करीब 15 छात्रों ने रोका और आंखें नीची करने को कहा और गालियां देने लगे।

यह है पूरा मामला
पीड़ित छात्र ने आरोप लगाया कि सीनियर छात्रों में से एक ने उसका कॉलर भी पकड़ रखा था और जब उसने अपना हाथ हटाया तो कथित तौर पर उसकी पिटाई की गई। सीनियर छात्रों ने कथित तौर पर उन्हें धमकी भी दी कि वे उसे डिपार्टमेंट से निकलवा देंगे। कुलपति बंशीधर मांझी(Vice-Chancellor Banshidhar Majhi) ने कहा कि उन्हें बुधवार को हुई घटना के बारे में छात्र से शिकायत मिली है। उन्होंने कहा, “यूनिवर्सिटी की आंतरिक अनुशासन समिति की एक बैठक आयोजित की जाएगी। जांच के बाद ही तथ्यों का पता चल सकेगा। घटना को लेकर छात्र पुलिस के पास भी गया था।” बुर्ला थाने के प्रभारी निरीक्षक सुशांत कुमार दास ने बताया कि आरोपों के आधार पर मामला दर्ज कर लिया गया है। उन्होंने कहा, “हम विश्वविद्यालय की आंतरिक समिति और एंटी रैगिंग सेल को भी एक रिपोर्ट भेजेंगे।”

विनायक कॉलेज में सामने आ चुका है ऐसा ही मामला
पिछले दिनों ओडिशा के ही विनायक आचार्य कॉलेज से एक शर्मनाक घटना सामने आई थी। यहां कुछ सीनियर छात्रों ने एक नाबालिग छात्रा की रैगिंग करते हुए उसे जबरन किस किया और उसका वीडियो बना लिया। वीडियो वायरल होते ही कॉलेज प्रशासन ने 12 छात्रों को तत्काल सस्पेंड कर दिया है। वहीं पुलिस द्वारा 5 छात्रों पर पॉक्सो एक्ट (POCSO Act) के तहत मामला दर्ज कर उन्हें हिरासत लेना पड़ा था।

हैदराबाद में आया था शॉकिंग केस
पिछले दिनों हैदराबाद में एक कॉलेज छात्र से मारपीट का वीडियो वायरल हुआ था। कुछ सीनियर छात्र जूनियर लॉ स्टूडेंट से धर्म विशेष नारे लगवाते दिखाई दे रहे थे। घटना IFHI कॉलेज के लॉ-छात्र हिमांक बंसल के साथ घटी थी। मारपीट के दौरान छात्र का वीडियो भी बनाया गया था, जिसके आधार पर पुलिस ने 12 सीनियर्स के खिलाफ मामला दर्ज किया था। वहीं 5 पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया गया था।

तमिलनाडु में कपड़े उतरवाए गए थे
पिछले दिनों तमिलनाडु के क्रिस्चियन मेडिकल कॉलेज (Christian Medical College, Tamilnadu) में रैगिंग का वीडियो वायरल होने के बाद 7 सीनियर्स को सस्पेंड किया गया था। वायरल वीडियो में नजर आया था कि कैसे जूनियर मेडिकल छात्रों के साथ रैगिंग की जा रही थी। सभी को कपड़े उतरवाकर कैंपस में स्ट्रिप कराया गया और अश्लील हरकतें भी हुईं। इतना ही नहीं पानी के पाइपों से उन पर पानी डाला जा रहा था, सामान फेंका जा रहा था। वहीं कुछ छात्रों को टेस्टिकल्स में तक मारा गया।

समाचार पर आपकी राय: