Treading News

PUBG मर्डर केस: बेटा बदल रहा बार बार बयान, पिता दोहरा रहा एक ही बात

RIGHT NEWS INDIA: लखनऊ के मशहूर PUBG हत्याकांड में लखनऊ पुलिस ने आरोपी लड़के के पिता से पूछताछ की है. इस दौरान पिता से पुलिस की पूछताछ और बाल सुधार गृह में आरोपी लड़के के साथ पूछताछ में कई बातों में काफी अंतर है.

पिता के मुताबिक, बच्चे ने मां का कत्ल किया है क्योंकि वह डांटती थी, लेकिन बच्चे ने तीसरे शख्स का इशारा किया है.

बाल सुधार गृह में आरोपी लड़के से पूछताछ के बाद कई सवाल खड़े हुए है, जिसको लेकर मजिस्ट्रेट के सामने अब रिपोर्ट पेश की जाएगी. दरअसल PUBG हत्याकांड में दिन ब दिन नए मोड़ आ रहे हैं. अब इसमें पुलिस ने चंदौली जाकर पिता से पूछताछ की, जिसमें पिता ने अपने पुराने बयान की दोहराया है.

पिता ने फिर कहा कि सोशल मीडिया की रोकटोक की वजह से बेटे ने मां का कत्ल किया है. दूसरी तरफ बच्चे से बाल सुधार गृह में लगातार पूछताछ की जा रही. बच्चा लगातार बयान बदल रहा है. ऐसे में बाल सुधार गृह के द्वारा जो रिपोर्ट तैयार की जा रही है, उसमें कई बातें निकल कर सामने आ रही. यह रिपोर्ट मजिस्ट्रेट के सामने रखी जाएगी.

बाल सुधार गृह में आरोपी लड़के ने पूछताछ के दौरान कई बार अपने पिता से बातचीत होने की बात कही. उसने यह भी कहा कि वह हर बात की जानकारी पिताजी को देता था, हर बात पिताजी से करता था, वारदात के बाद भी पिताजी से वीडियो कॉल की थी. पूरे मामले पर पुलिस और बाल सुधार गृह की रिपोर्ट अलग-अलग है.

‘प्रॉपर्टी डीलर वाले अंकल घर आते थे, मुझे बुरा लगता था’

इससे पहले आरोपी बेटे ने बाल सुधार गृह की पूछताछ में बताया था, ‘जब पापा नहीं होते थे, तब मम्मी से मिलने प्रॉपर्टी डीलर वाले अंकल आते थे. यह देखकर मुझे बहुत बुरा लगता था. मैंने इस बात की शिकायत एक दिन पापा से कर दी, जिसके बाद पापा और मम्मी के बीच जमकर लड़ाई हुई. इसके बाद मम्मी ने मुझे खूब मारा. तभी से मेरे मन में गुस्सा भरा था.’

आरोपी बेटे ने आगे कहा था, ‘प्रॉपर्टी डीलर अंकल एक दिन घर डिनर पर आए. यह मुझे नागवार गुजरा. मैंने खाना नहीं खाया. जिसकी शिकायत मैंने फिर पापा से की. इसकी वजह से मां ने मेरा फोन छीन लिया था और जमकर मेरी पिटाई की. पापा से मैंने कहा कि मुझे यह सब पसंद नहीं है. तो पापा ने कहा मैं होता तो पिस्टल उठाकर गोली मार देता.’

आगे आरोपी बेटे ने पूछताछ में कहा, ‘मैंने पापा से पूछा कि मैं क्या करूं? पापा ने बोले- जो मन में है, तुम वह करो. कुछ दिन बाद मम्मी के पैसे (10 हजार रुपए) गायब हुए. जो मैंने नहीं लिए थे, फिर भी मेरी जमकर पिटाई की गई. मैं खून के घूंट पी के रह गया. मुझे मम्मी ने खाना भी नहीं दिया. मैं पूरी रात भूखा रहा. और तभी मैंने सोच लिया कि अब खाना तभी खाऊंगा, जब इस बात का बदला ले लूंगा. उसके बाद रात में हम तीनों (मां, छोटी बहन और आरोपी खुद) सो रहे थे. मैं उठा, पिस्टल निकाली और मम्मी को गोली मार दी.’

Comments: