मां वैष्णो के नाम पर लॉज खोल कर करवाया जा रहा जिस्मफरोशी का धंधा, पुलिस बनी अनजान; मीडिया ने खोली पोल

0

उत्तर प्रदेश के जौनपुर में खुलेआम जिस्मफरोशी का खेल चल है रहा है, लेकिन हैरत की बात यह है कि पुलिस पूरे मामले से अनजान है. यहां देवी-देवताओं के नाम पर लॉज का नाम रखकर उसके अंदर जिस्मफरोशी कराई जा रही है. एक जानेमाने मीडिया चैनल के स्टिंग ऑपरेशन में शाहगंज कस्बे के चिरैयामोड़ स्थित मां वैष्णो लॉज में जिस्मफरोशी का खुलासा हुआ. वहां के मैनेजर ने आठ सौ से 12 सौ रुपए में हर व्यवस्था देने की बात की. इतना ही नही मैनेजर ने पंसद करने के लिए वहां मौजूद तीन युवतियों को भी दिखाया, उनसे कहा कि बड़ी दूर-दूर से लोग आते हैं वह किसी को भगाता नहीं है. बता दें कि उस लॉज से मात्र दो सौ मीटर दूर महिला महाविद्यालय भी स्थित है. उसके बावजूद पुलिस इस पूरे मामले से अनजान बनी है,

दरअसल, स्थानीय लोगों के मुताबिक,शाहगंज कोतवाली क्षेत्र के चिरैयामोड स्थित मां वैष्णो लॉज में गुपचुप तरीके से जिस्मफरोशी का खेल काफी लंबे समय से चल रहा है. कई लोगों द्वारा कई बार शिकायत के बावजूद बन्द नहीं हुआ. लॉज के बगल में एक महिला महाविद्यालय भी स्थित है. उसके बावजूद जिस्मफरोशी के धंधे पर रोक नहीं लग पाई, हालांकि, इसकीं भनक लगते ही टीवी 9 भारतवर्ष की टीम ग्राहक बनकर मां वैष्णो लॉज में जा पहुंची. वहां पहुंचने पर रिसेप्शन पर मैनेजर और उसके पास तीन युवतियां बैठी मिलीं. मैनेजर ने बातचीत में अपना नाम अर्जुन बताया.

मैनेजर बोला- दूर-दूर से लोग आते हैं लोग

वहीं, लॉज में पहुंचकर जब सर्विस के बारे में बात की गई तो वहां मौजूद मैनेजर ने बताया कि बारह सौ रेट है, लेकिन 1 हज़ार से कम नहीं होगा, उनसे बताया कि वह मोलभाव नही करता. उसके यहां केवल एक हज़ार रूम का किराया लगता है ,लेकिन वह किसी को भगाता नहीं. क्योंकि लोग बड़ी दूर-दूर से उसके यहां आते हैं. मगर, बहुत जद्दोजहद के बाद लॉज का मैनेजर 8 सौ रुपए में सर्विस दिलाने के लिए तैयार हो गया.

इस दौरान लॉज के मैनेजर से जब युवतियों को देखने व पसन्द करने के बारे में बात की गई. तो उसने लॉज के रिसेप्शन के पास से खुद पर्दा हटाकर पहले से बैठी तीनों युवतियों का चेहरा खोलने के लिए कहा, चेहरा दिखाने के बाद मैनेजर ने पसंद पूछी. इसके बाद तीनों युवतियों को अंदर भेज दिया.

स्टिंग के बाद मैनेजर बोला-पेट के लिए लोग आते हैं क्या करें..

जिस्मफरोशी के स्टिंग ऑपरेशन के बाद जब मां वैष्णो के नाम पर चलाए जा रहे लॉज के मैनेजर से पूछा गया कि क्या ऐसा कराना जायज है, तो उसने बताया कि वह सही तो नहीं कर रहा है, लेकिन कोई मजबूरी में आ गया तो पेट के लिए करना मजबूरी है. हालांकि, इस दौरान वह इससे ज्यादा कुछ नहीं बोला, किसी को कई बार लगाकर फोन लगाता रहा. इसकी भनक लगते ही लॉज में गए सभी लोग पिछले गेट से भगाने लगे. वहीं, सबके जाने के बाद मैनेजर भी ताला लगाकर वहां से गायब हो गया.

पुलिस बनी अनजान

बता दें कि शाहगंज क्षेत्र में मां वैष्णो लॉज के अलावा भी कई होटलों में गुपचुप तरीके से जिस्मफरोशी का खेल चल रहा है. स्थानीय लोगों को पता है, लेकिन पुलिस इस मामले से पूरी तरह अनजान बनी है. हालांकि, पुलिस इस मामले पर कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है.

Previous articleऑपरेशन थिएटर में महिला मरीज के साथ हुई छेड़छाड़, पीड़िता की शिकायत पर थाने पहुंचा मामला
Next articleयूट्यूबर को भगवान बुद्ध पर टिप्पणी करना पड़ा भारी,अदालत ने चार दिन की हिरासत में भेजा

समाचार पर आपकी राय: