पुलिस को भारी पड़ा जमीन विवाद में पड़ना, ग्रामीणों ने दौड़ा दौड़ा कर पीटा, 11 पुलिस कर्मियों सहित 17 घायल

0
4

औरंगाबाद: बिहार के औरंगाबाद में पुलिस को विवादित जमीन पर धान काटने से मना करना भारी पड़ गया. बताया जा रहा है कि जिले के गोह थाना क्षेत्र के दरधा गांव में विवादित जमीन पर धान काटने से रोकने गई पुलिस पर ग्रामीणों ने हमला (Villagers attacked police in Aurangabad) कर दिया. जिसमें 11 पुलिसकर्मी सहित कुल 17 लोग घायल हो गए हैं. जानकारी के मुताबिक कोर्ट के निर्देश के बावजूद दूसरे पक्ष के लोग धान काट रहे थे. जिनको रोकने के लिए पुलिस गई थी. इस घटना का वीडियो भी तेजी से वायरल हो रहा है. हालांकि ईटीवी भारत वायरल वीडियो की पुष्टि नहीं करता है.

औरंगाबाद में पुलिसवालों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा: घटना के बारे में जानकारी देते हुए गोह थानाध्यक्ष शमीम अहमद ने बताया कि दरधा गांव के कुछ लोगों द्वारा विवादित जमीन पर लगी धान की फसल जबरन काटने की सूचना मिली थी. जानकारी के बाद पुलिस पदाधिकारी के साथ सशस्त्र पुलिस बल मौके पर पहुंच गई. जहां कुछ महिलाएं धान की फसल काट रही थीं. पुलिस कर्मियों द्वारा जब मना किया गया तो वो विवाद करने लगे. कुछ ही क्षण में विवाद बढ़ गया और मौके पर बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए और पुलिस पर लाठी- डंडे के साथ हमला कर दिया. इस घटना में एक एएसआई सहित 11 पुलिसकर्मियों को चोटें आई हैं. जिसमें 5 महिला सिपाही भी शामिल हैं. वैसे इस घटना में कुल 17 लोग घायल (11 policemen including ASI injured in Aurangabad) हुए हैं. सभी घायलों का इलाज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गोह में किया जा रहा है.

विवादित जमीन पर धान काटने से रोकने गई थी पुलिस: घटना में घायल हुए सभी लोगों का इलाज जारी है. इस घटना में दूसरे ग्रामीण पक्ष की तरफ से बुचुन कुमारी, पुतुल कुमारी, प्रेमलता कुमारी, सौरभ कुमार, रीना कुमारी आदि घायल हुए हैं. बुचुन कुमारी, पुतुल कुमारी एवं प्रेमलता कुमारी को बेहतर इलाज के लिए गया रेफर कर दिया गया है. वहीं धनकटनी के इस विवाद में घायल पुलिसकर्मियों का इलाज गोह पीएचसी में कराया गया. घायलों में एएसआई बिकाऊ राम, सिपाही अम्बिका कुमारी, राजकुमार, प्रियंका कुमारी, रेखा कुमारी, चांदनी कुमारी, लवली आनंद, धर्मेन्द्र कुमार, अजय कुमार और आर्यन कुमार शामिल हैं. घटना के बारे जानकारी देते हुए एसडीपीओ कुमार ऋषि राज ने बताया कि दोनों पक्ष में तनाव है. पुलिस घटनास्थल पर कैंप कर रही है. फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है.

“दरधा गांव के कुछ लोगों द्वारा विवादित जमीन पर लगी धान की फसल जबरन काटने की सूचना मिली थी. जानकारी के बाद पुलिस पदाधिकारी के साथ सशस्त्र पुलिस बल मौके पर पहुंच गई. जहां कुछ महिलाएं धान की फसल काट रही थीं. पुलिस कर्मियों द्वारा जब मना किया गया तो वो विवाद करने लगे. कुछ ही क्षण में विवाद बढ़ गया और मौके पर बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए और पुलिस पर लाठी-डंडे के साथ हमला कर दिया. घटना में पुलिस पदाधिकारी एवं जवान घायल हो गए.”- शमीम अहमद, गोह थानाध्यक्ष, औरंगाबाद

समाचार पर आपकी राय: