हिंदू लड़की के माता-पिता पर अपनी बेटी को भेजने के लिए धमका रहा मुस्लिम शख्स, न भेजने पर ‘सर तन से जुदा’ करने की धमकी

0
41

RIGHT NEWS INDIA: एक समय था, जब लव जिहाद को नकार दिया जाता था, लेकिन अब खुलकर यह कहा जा रहा है कि अपनी बेटी को हमारे पास भेजो, वरना पूरे परिवार का सिर तन से जुदा कर देंगे।

झारखंड में अंकिता सिंह को जिन्दा जला डालने और दिल्ली के संगम विहार में नैना मिश्रा को सरेआम गोली मारने के बाद अब उत्तर प्रदेश से ऐसा मामला सामने आया है, जिसने 1990 के कश्मीरी हिन्दू नरसंहार के जख्मों को कुरेद दिया है। जब धरती का स्वर्ग कहने वाले कश्मीर में कट्टरपंथियों द्वारा सरेआम ये ऐलान कर दिया गया था कि, ‘हमें कश्मीर चाहिए, कश्मीरी हिन्दुओं के बगैर, लेकिन उनकी औरतों के साथ।’ ऐसी ही एक घटना यूपी के बागपत से सामने आई है।

बागपत में मोहम्मद रहीस नामक युवक, एक हिंदू लड़की के माता-पिता पर अपनी बेटी को उसके पास भेजने के लिए लगातार धमका रहा है। यहाँ तक कि बेटी को न भेजने पर उसने पूरे परिवार का ‘सर तन से जुदा’ करने की धमकी तक दे डाली है। पिता ने थाने में शिकायत देकर कड़ी कार्रवाई करने की माँग की है। लड़की के पिता ने आरोप लगाते हुए कहा है कि मोहम्मद रहीस उन पर अपनी बेटी को उसके पास भेजने के लिए मानसिक दबाव बना रहा है। जब उन्होंने इसका विरोध किया तो उनकी बेटी की अश्लील तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दी। साथ ही पूरे परिवार को जान से मार डालने की धमकी दी है। लड़की के पिता ने बताया है कि वे बागपत के खेकड़ा थाना क्षेत्र के निवासी हैं। 18 जुलाई को लड़की के पिता अपनी पत्नी के साथ स्कूटर से दिल्ली की तरफ जा रहे थे। इसी बीच गाजियाबाद का निवासी मोहम्मद रहीस ने उन्हें रास्ते में रोक लिया। लड़की के पिता ने बताया है कि रहीस उनकी बीवी से कहा कि ‘अपनी बेटी को मेरे पास भेज दो, नहीं तो तुम्हारा और तुम्हारे पति का सर तन से जुदा कर दूँगा’। इस धमकी के बाद से पूरा परिवार दहशत में है।

क्योंकि, कन्हैयालाल और उमेश कोल्हे जैसी नृशंस हत्याओं के बाद ‘सर तन से जुदा’ का ये नारा आतंक का पर्याय बन चुका है, लेकिन न्यायपालिका या प्रशासन ने अभी तक सड़कों पर कट्टरपंथी भीड़ द्वारा लगाए जा रहे इन नारों पर गौर नहीं किया है। इस तरह खुले आम गर्दन काटने की धमकियां क्या कोई अपराध नहीं है ?

बहरहाल, लड़की के पिता ने अपनी शिकायत में पुलिस को बताया है कि हंगामा देखकर मौके पर लोग जमा हो गए। भीड़ को देखकर मोहम्मद रहीस वहाँ से भाग गया। इसके बाद से वह निरंतर उनके परिवार पर लड़की को उसके पास भेजने का दबाव बना रहा है। 23 अगस्त को उसने अपने व्हाट्सएप स्टेटस पर उसकी बेटी की अश्लील तस्वीर भी लगा दी थी। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पीड़ित पिता ने बताया कि उसकी बेटी एक स्कूल में टीचर थी। वहीं, मोहम्मद रहीस लड़का शुक्र बाजार में ठेला लगाता था। 30 मई को उसकी बेटी बिना बताए लापता हो गई थी। हिंदू संगठनों के हंगामे के बाद पुलिस ने उनकी बेटी को एक माह बाद बरामद कर परिजनों के हवाले किया गया था।

उसके बाद से मोहम्मद रहीस लगातार लड़की को उसके पास भेजने का दबाव डाल रहा है। साथ ही वह परिवार वालों को हत्या की धमकी भी दे रहा है। स्थानीय लोगों के मुताबिक, मुस्लिम लड़के साथ पीड़ित की बेटी का प्रेम प्रसंग है। पीड़ित पिता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपित के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

Leave a Reply