Murder in Delhi: मनीष को चाकुओं से हमला कर बिलाल, आलम और फैजान ने उतारा मौत के घाट

0
71

दिल्ली के सुंदर नगरी इलाके में मनीष हत्याकांड में बड़ा खुलासा हुआ है. पुलिस ने दावा है कि हत्या करने वाले तीन आरोपी लगातार मनीष पर केस वापस लेने का दबाव बना रहे थे. जब मनीष ने केस वापस नहीं लिया तो आरोपियों ने सरेराह चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी. तीनों आरोपी घटना के बाद सीसीटीवी में कैद हुए थे, जिसके बाद पुलिस ने ट्रेस किया और पूछताछ के बाद पूरी घटना से पर्दा उठा दिया है.

पुलिस के मुताबिक, नॉर्थ ईस्ट दिल्ली इलाके में रहने वाले मनीष (25 साल) की शनिवार शाम तीन आरोपियों ने सरेआम चाकुओं से ताबड़तोड़ हमला करके हत्या कर दी थी. आरोपियों के नाम फैजान, बिलाल और आलम हैं. हैरान कर देने वाली बात यह रही कि मौके पर आसपास के लोग भी मौजूद थे, मगर किसी ने मनीष को बचाने की हिम्मत नहीं जुटा पाई. जबकि हत्या करने के बाद आरोपियों ने गली में चीखते हुए कहा था कि मार दिया है. लाश उठा लो, दो और को मारेंगे. हत्या की पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. इसमें दिख रहा था कि कैसे आरोपी मनीष पर एक के बाद एक चाकू से हमला कर रहे हैं.

कोर्ट में चल रहा था मोबाइल छीनने का मामला

मनीष का गुनाह सिर्फ इतना था कि वो अपने खिलाफ हुए अपराध पर अदालत में गवाही दे रहा था. परिवार वालों के मुताबिक, 1 साल पहले मनीष से उसका मोबाइल छीन लिया गया था. उस दौरान भी उसके ऊपर चाकू से हमले हुए थे, उसकी गर्दन और पेट पर चाकू से वार किया गया था. पुलिस ने तब मनीष की शिकायत दो आरोपी कासिम और मोहसिन को गिरफ्तार किया था. आरोप है कि अब कासिम और मोहसिन के करीबी मनीष पर लगातार केस वापस लेने का दबाव बना रहे थे.

केस वापस ना लेने पर परिवार तक को धमकी मिली थी

आए-दिन उसके परिवार को धमकी देते रहते थे. मनीष ने अदालत में एप्लीकेशन देकर शिकायत भी दी थी और बताया था कि कैसे उसे धमकियां दी जा रही हैं. सितंबर में मनीष की कोर्ट में तारीख थी और उससे पहले इन दोनों आरोपियों के परिवार के लोग मनीष के घर पहुंचे और उसको केस वापस लेने के लिए धमकाने लगे. ऐसा ना करने पर उसको जान से मारने की धमकी दी थी.

अब धमकी देने वालों की पहचान कर रही पुलिस

मनीष ने 28 सितंबर को कोर्ट में गवाही दी, जिसके ठीक 3 दिन बाद मनीष की उसके घर के बाहर ही हत्या कर दी गई. तीनों आरोपी बिलाल, आलम और फैजान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. अब पुलिस का कहना है कि जिन लोगों ने मनीष के घर पहुंच कर परिवार को धमकी दी थी, उनकी पहचान भी की जा रही है. जल्द ही उनकी गिरफ्तारी की जाएगी.

…फिर एक दलित की हत्या कर दी, कपिल मिश्रा का ट्वीट

वहीं, मनीष हत्याकांड पर बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने ट्वीट किया है. उन्होंने कहा- सुंदर नगरी में हृदय विदारक घटना हुई है. एक बार फिर जिहादियों ने एक युवा दलित की हत्या कर दी. मेरी पुलिस अधिकारियों से बात हुई है. कुछ अपराधी पकड़े गए हैं. मैं सभी से संयम बनाए रखने की अपील करता हूं. आक्रोश हम सबको है, पर ये समय परिवार के इस असहनीय दुःख में साथ खड़े होने का है.

समाचार पर आपकी राय: