हरिद्वार के नामी स्कूल के प्रिंसिपल पर महिला कर्मी ने लगाए यौन उत्पीडन के आरोप

0
11

हरिद्वार: नगर के एक प्रतिष्ठित स्कूल के चेयरमैन पर उन्हीं के स्कूल की महिला कर्मचारी ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. वहीं, महिला कर्मचारी की तहरीर पर पुलिस ने स्कूल के चेयरमैन और प्रिंसिपल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. जिसके बाद पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई है. हालांकि, स्कूल के चेयरमैन का कहना है कि महिला द्वारा लगाये गए सभी आरोप झूठे और निराधार हैं.

ज्वालापुर स्थित एक प्रतिष्ठित स्कूल के चेयरमैन और प्रिंसिपल पर स्कूल की महिला कर्मचारी ने यौन उत्पीड़न का गंभीर आरोप लगाया है. पीड़िता का आरोप है कि पहले स्कूल के चेयरमैन ने व्हाटसएप पर मैसेज भेजे और गलत तरीके से छूकर शारीरिक संबंध बनाने का दबाव डाला. फिर प्रिंसिपल ने फ्रेंडशिप का आफर देकर शारीरिक संबंध बनाने के लिए बोला. मना करने पर बंधक बनाकर गाली-गलौज करते हुए धमकी दी गई. आखिर में पीड़िता को नौकरी छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा.

ज्वालापुर पुलिस के अनुसार, पीड़िता ने ज्वालापुर कोतवाली में तहरीर देकर बताया कि बीते जनवरी माह में उसकी स्कूल में नियुक्ति हुई थी. आरोप है कि मार्च 2022 की शुरुआत में ही स्कूल के चेयरमैन ने जबरदस्ती संबंध बनाने के लिए दबाव बनाया और यौन उत्पीड़न शुरू कर दिया. कई व्हाट्सएप मैसेज भी भेजे. इसकी शिकायत उन्होंने प्रिंसिपल से की, जिसके बाद चेयरमैन के मैसेज आने बंद हो गए. लेकिन प्रिंसिपल ने सहानुभूति दिखाते हुए गलत तरीके से छूना शुरू कर दिया. महिला का आरोप है कि अप्रैल 2022 में प्रिंसिपल ने दोस्ती का ऑफर देते हुए संबंध बनाने के लिए बोला. इसके बाद यौन शोषण व उत्पीड़न से मजबूर होकर उन्हें नौकरी तक छोड़नी पड़ी.

वहीं, ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी आरके सकलानी ने बताया कि तहरीर के आधार पर स्कूल के चेयरमैन और प्रिंसिपल के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. उधर, इस मामले को लेकर स्कूल के चेयरमैन का कहना है कि महिला सरासर गलत और झूठे आरोप लगा रही है. अभी तक वो स्कूल के प्रिंसिपल पर आरोप लगा रही थी. अब उसने उन्हें भी इसमें लपेट लिया है. चेयरमैन का कहना है कि स्कूल की जांच समिति ने सभी आरोपों को जांच में निराधार पाया है. उनके पास इसके पुष्ट सबूत हैं और अब वो भी कानूनी कार्रवाई करेंगे.

समाचार पर आपकी राय: