कांग्रेस महासचिव से 40 लाख की धोखाधड़ी, मैनेजर समेत कर्मचारियों पर एफआईआर दर्ज

0
2

ठियोग: हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव महेंद्र सतान से 40 लाख रुपए की धोखाधड़ी का मामला संज्ञान में आया है। जानकारी के अनुसार यह धोखाधड़ी उनके पैट्रोल पंप पर काम करने वाले कर्मचारियों ने ही की है।

महेंद्र सतान ने कोटखाई थाने में इस बाबत एफआईआर दर्ज कराई है। उन्होंने अपने शिकायत पत्र में आरोप लगाया है कि पैट्रोल पंप पर काम करने वाले मैनेजर और 3 अन्य लोगों ने उनके साथ फ्रॉड किया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार महेंद्र सतान की ओर से दी गई शिकायत में कहा गया है कि उनका कोटखाई में सतान एचपी इंटरप्राइजिज, गुम्मा नाम से पैट्रोल पंप है। इस पैट्रोल पंप पर मैनेजर, असिस्टैंट मैनेजर समेत 4 कर्मचारी काम करते हैं।

महेंद्र सतान के अनुसार उनके पैट्रोल पंप पर तेल बेचने के बदले आने वाली पेमैंट काफी समय से बैंक अकाऊंट में नहीं डाली जा रही थी। जब उन्होंने इसकी पड़ताल शुरू की तो पता चला कि पंप पर काम कर रहा स्टाफ उनसे धोखाधड़ी कर रहा है। ये लोग पंप पर होने वाली सेल की रकम अपने बैंक खातों में डलवाते रहे। यही नहीं, पंप से तेल डलवाने वाले जो ग्राहक ऑनलाइन पेमैंट करना चाहते थे, उन्हें ये कर्मचारी अपना गूगल-पे अकाऊंट दे देते थे। पंप के रिकॉर्ड में इस पेमैंट की कोई जानकारी नहीं है।

महेंद्र सतान की शिकायत पर पुलिस ने पैट्रोल पंप मैनेजर सुरेंद्र सिंह निवासी देहल गांव जिला कांगड़ा, पंप के असिस्टैंट मैनेजर रोहित निवासी गुम्मा और 2 कर्मचारियों सुनील व पुष्पेंद्र पर एफआईआर दर्ज कर ली है। एफआईआर नंबर 94/22 में इन लोगों पर आईपीसी की धारा 408, 34 लगाई गई है। डीएसपी ठियोग सिद्धार्थ शर्मा ने बताया कि पैट्रोल पंप मालिक की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया गया है और पुलिस द्वारा आगामी कार्रवाई की जा रही है।

समाचार पर आपकी राय: