दुष्कर्म के लिए शादी का झांसा देने के आरोप में पीसीएस अधिकारी गिरफ्तार; लखनऊ

राजधानी लखनऊ के एक पीसीएस अधिकारी को शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने और फिर धोखा देकर शादी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। दरअसल, आरोपी अनुराग रंजन का 2018 में चयन हुआ था। लेकिन अभी तक उनकी तैनाती नहीं हुई थी। इस बीच 2017 में उसकी मुलाकात कोचिंग में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाली एक छात्रा से हुई। दोनों की दोस्ती हुई और बाद में दोस्ती प्यार में बदल गई। पीड़िता का आरोप है कि 2017 से ही अनुराग उसे शादी का झांसा देकर उससे दुष्कर्म करता रहा। लेकिन धोखा देकर चुपके से किसी और से शादी रचाई। इस बात की जानकारी होने पर पीड़िता ने घर पर हंगामा काटा और अनुराग पर शादी का झांसा देकर तीन साल तक दुष्कर्म का आरोप लगाया। पीड़िता ने गंभीर आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज कराई है।

एक निजी अस्पताल में नर्स का काम करने वाली पीड़िता ने बताया कि वह मूल रूप से बलिया की रहने वाली है और 2017 में महेंद्रा कोचिंग में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के दौरान उनकी मुलाकात अनुराग रंजन से हुई थी। 2017 से ही अनुराग रंजन शादी का झांसा देकर उनके साथ दुष्कर्म कर रहा था। कुछ महीने पहले उसका चयन पीसीएस में हो गया। इसके बाद 12 दिसंबर को अनुराग की शादी हुई। पीड़िता ने कहा कि अनुराग की शादी की जानकारी के बाद वह उनके घर गई। इस बीच अनुराग पर गंभीर आरोप लगाते हुए पीड़िता ने उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। पीड़िता की शिकायत पर आशियाना थाना पुलिस ने दुष्कर्म, धमकी और आपराधिक साज़िश की धाराओं में एफआईआर दर्ज कर अनुराग रंजन को शादी के अगले ही दिन गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

Please Share this news:
error: Content is protected !!