पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा; अंजलि ने नही पी थी शराब, क्या निधि बोल रही है झूठ, FSL टीम फिर करेगी जांच

0

Delhi Kanjhawala Case: दिल्ली के कंझावला कांड में नए-नए खुलासे हो रहे हैं. पुलिस लगातार छानबीन कर रही है और मामले को कई एंगल से देखा जा रहा है. वहीं अब इस मामले में FSL की टीम एक बार फिर दोबारा से जांच पड़ताल करेगी. FSL की टीम को दोबारा से जांच करने के लिए रिक्वेस्ट भेजी गई है. फॉरेंसिक जांच से कई अहम बातों का खुलासा होने की उम्मीद है.

इस मामले में सीसीटीवी फुटेज भी काफी अहम हैं. एबीपी न्यूज पर निधि का सीसीटीवी फुटेज दिखाया गया था और अब उसी की जांच के लिए पुलिस उस घर पहुंची है जहां कैमरा लगा हुआ था. पुलिस के सामने अब निधि के बयानों को वेरिफाई करने की भी चुनौती है. पुलिस को निधि के बयान, घटना की टाइम लाइन और सीसीटीवी को कनेक्ट करना होगा. यही कारण है कि पुलिस फुटेज लेने पहुंची है.

‘अंजलि ने शराब नहीं पी थी’

31 दिसंबर और 1 जनवरी की दरमियानी रात हुई दरिंदगी के मामले में एक और नया मोड़ आया है. हादसे में जान गंवाने वाली अंजलि के परिजनों ने उसकी मौत को लेकर बड़ा दावा किया है. परिजनों का कहना है कि अंजलि का ब्रेन नहीं मिला है. परिवार ने ये भी कहा है कि अंजलि की हत्या की गई है. परिजनों ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि अंजलि ने शराब नहीं पी रखी थी.

‘अभी तक रेप के साक्ष्य नहीं मिले हैं’

इससे पहले, अंजलि के परिजनों ने रेप का आरोप भी लगाया. हालांकि जांच में अभी तक कुछ भी ऐसा सामने नहीं आा है. विशेष पुलिस आयुक्त (कानून-व्यवस्था) सागर प्रीत हुड्डा ने कहा, “प्रारंभिक रिपोर्ट से संकेत मिलता है कि कोई भी चोट यौन उत्पीड़न का साक्ष्य नहीं देती है. अंतिम रिपोर्ट आने वाले समय में प्राप्त होगी. मामले की जांच जारी है.”

कंझावला कांड

गौरतलब है कि नए साल के पहले ही दिन तड़के अंजलि की स्कूटी को एक कार ने टक्कर मार दी और कार में फंस गई अंजलि को वे लोग करीब 12 किलामीटर तक सड़कों पर घसीटते रहे जिससे उसकी मौत हो गई. उसका शव बाहरी दिल्ली के कंझावला इलाके में सड़क किनारे पड़ा मिला. पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है.

Previous articleयुवाओं की साकारात्मक रचना शक्ति राष्ट्र को मजबूती प्रदान करती है- सुशील पुण्डीर
Next articleसुन्नी बांध पनबिजली परियोजना के लिए 2614 करोड़ मंजूर, पीएम मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल ने किया फैसला

समाचार पर आपकी राय: