अनुसूचित जाति के लोगों पर हुआ जानलेवा हमला, IGMC में नही मिला सही इलाज, एससी एसटी एक्ट लगाने की उठी मांग

0
2

हिमाचल के मंडी स्थित द्रंग विधानसभा क्षेत्र की पंचायत उरला के गांव बड़वाहन में दो भाइयों के ऊपर हुए जानलेवा हमले के बाद परिजनों ने मंडी पुलिस से न्याय की गुहार लगाई है। इस संदर्भ में परिजनों ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनमोहन सिंह को शिकायत पत्र देकर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। इस घटना में घायलों की मां ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाए हैं।

उसने कहा है कि IGMC प्रबंधन ने भी बेटों का सही से इलाज नहीं किया। साथ ही उन्हें घायल अवस्था में ही अस्पताल से छुट्‌टी दे दी गई। डलाह वार्ड से जिला परिषद सदस्य रविकांत व भीम आर्मी के पदाधिकारियों ने साफ कहा है कि इस मामले में एट्रोसिटी केस जोड़ा जाए। अगर दो दिन के भीतर इस मामले में कोई कार्यवाही नहीं हुई तो फिर भीम आर्मी के सदस्य उग्र आंदोलन करने से भी गुरेज नहीं करेंगे।

बता दें कि कि ग्राम पंचायत उरला के गांव बड़वाण में 20 नवंबर की शाम को अनुसूचित जाति के दो भाइयों के ऊपर जानलेवा हमला हुआ है। हमलावरों ने दोनों भाइयों को मारकर ढांक से नीचे गिरा दिया। पीड़ित पक्ष अनुसूचित जाति से संबंध रखता है तथा हमलावर उच्च वर्ग से संबंधित हैं। ग्रामीणों ने साफ कहा है कि यदि आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा नहीं होगी तो पूरा अनुसूचित जाति वर्ग सड़कों पर उतर जाएगा।

उन्होंने सभी आरोपियों के ऊपर अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की।

समाचार पर आपकी राय: