ट्रॉली बैग में पॉलीथिन में लिपटी मिली 22 साल की युवती की लाश, 24 घंटों बाद भी नहीं हुई पहचान

0
5

उम्र- करीब 22 साल. कद- 5 फीट 2 इंच. हुलिया- रंग गोरा और लंबे काले बाल. पहनावा: स्लेटी कलर की टी-शर्ट और नीले-सफेद फूल पत्ती प्रिंटेड प्लाजो. इसके अलावा बाएं हाथ पर लाल कलावा और काला बंधा धागा.

पैर के नाखूनों पर हरे रंग की नेल पॉलिश. लाल सफेद और बैगनी रंग की साड़ी साथ है. यह पहचान है यूपी के मथुरा में यमुना एक्सप्रेस-वे के किनारे लाल रंग के एक ट्रॉली बैग में पन्नी में लिपटी मिली मृत लड़की की. 24 घंटे बीतने के बाद और यूपी पुलिस की 5 टीमें लगाने के बाद भी मृतका की शिनाख्त नहीं हो सकी है. शव को देखने से प्रतीत होता है कि युवती की हत्या कर शव को फेंका गया है इस घटना से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है.

कार्यवाहक एसएसपी (एसपी सिटी) मार्तंड प्रकाश सिंह ने बताया, अभी तक इस मामले की तहकीकात में 5 टीमें लगी हुई थीं, लेकिन अब 3 टीम और बढ़ा दी गई हैं. इस मामले में कुल 8 टीमें लगाई गई हैं. जो नोएडा से लेकर आगरा तक के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही हैं. अभी तक युवती के शव की कोई शिनाख्त नहीं हो पाई है.

दरअसल, शुक्रवार दोपहर में मथुरा पुलिस को यह सूचना मिली कि राया इलाके के कृषि अनुसंधान केंद्र के नजदीक यमुना एक्सप्रेस-वे से सटे सर्विस रोड पर लाल रंग का ट्रॉली बैग पड़ा है. बैग को खोलने पर उसमें प्लास्टिक में पैक किया हुआ लड़की का एक शव पाया गया.

पुलिस की शुरुआती जांच में पता चला है कि यमुना एक्सप्रेस वे पर नोएडा की तरफ से आने वाले रास्ते लड़की का शव फेंका गया है. यह भी पता चला है कि गोली मारकर हत्या करने के बाद उसका डेड बॉडी को यहां लाकर डाला गया है. युवती के कपड़ों से उसकी कोई पहचान नहीं हो पाई है, लेकिन किसी अच्छे परिवार की प्रतीत हो रही है. पुलिस की टीमें उसकी शिनाख्त करने की कोशिश की जा रही हैं.

राया थाना पुलिस के एसआई शिवकुमार शर्मा ने बताया है कि एक कानपुर के रहने वाले परिवार ने फोटो देखकर दावा किया है. लेकिन उस परिवार के सदस्यों का कहना है कि हमारी बेटी की पथरी का ऑपरेशन हुआ था और जिसके पेट पर सर्जरी का निशान है, मगर इस लड़की के पेट पर कोई निशान नहीं है. बाकी आज वह परिवार मथुरा मोर्चरी पर आ रहा है, उसके बाद ही सामने से पहचान करने के बाद इस मामले में कुछ कहा जा सकेगा.

फिलहाल पुलिस ने युवती के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर छानबीन शुरू कर दी है. पीएम रिपोर्ट का भी इंतजार किया जा रहा है. अब ट्रॉली बैग में पॉलिथीन से लिपटी युवती की लाश मिलने से पूरे इलाके में चारों हड़कंप मचा हुआ है. यह थी कौन और कहां से आई? इस पूरे मामले की गहनता से छानबीन के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा. इतना अवश्य है कि नोएडा से आगरा के बीच बना यमुना एक्सप्रेस वे अपराधियों की शरणस्थली बना हुआ है.

समाचार पर आपकी राय: