रंगीन मिजाज गुरुजी सस्पेंड: महिला के साथ अधीक्षक रूम में पकड़ाया, चौकीदार और छात्रों ने कमरे में बंद कर पुलिस को दी सूचना

0

छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले के पोड़ी-उपरोड़ा विकासखंड अंतर्गत प्री-मैट्रिक आदिवासी बालक छात्रावास लैंगी में गुरुजी को रंगीन मिजाजी भारी पड़ गई। उसकी इस हरकत की शिकायत उच्च स्तर पर की गई तो, उसे तत्काल निलंबित कर दिया गया है।

जानकारी के अनुसार, प्री-मैट्रिक आदिवासी बालक छात्रावास लैंगी में 22 जनवरी की रात 9.30 बजे छात्रावास अधीक्षक के कमरे में प्रदीप कुमार टोप्पो सहायक शिक्षक एलबी, शासकीय प्राथमिक शाला मोहनपुर, संकुल केन्द्र चंद्रौटी एक महिला को लेकर गया था। यह देखकर रात करीब 11.30 बजे छात्रावास के चौकीदार और छात्रों ने सहायक शिक्षक को उस कमरे में बंद कर बाहर से ताला लगा दिया।

छात्रावास से दोनों को थाना ले गई पुलिस

इसकी सूचना डायल 112 और पसान पुलिस को दी गई। रात में पुलिस ने यहां पहुंचकर छात्रावास अधीक्षक के कमरे का ताला खोलकर प्रदीप कुमार टोप्पो और महिला को बाहर निकाला। इसके बाद पुलिस उन्हें थाने ले गई। इसके बाद दोनों से पूछताछ हुई। मामले की जानकारी जिला शिक्षा अधिकारी को दी गई। उन्होंने जांच कराई, तो छात्रों की शिकायत सही पाई गई। विकासखंड शिक्षा अधिकारी पोड़ी-उपरोड़ा द्वारा जांच प्रतिवेदन सौंपा गया। महिला के ससुर ने भी बहू के खिलाफ कार्रवाई के लिए पुलिस को आवेदन सौंपा।

निलंबित किया गया सहायक शिक्षक

जिला शिक्षा विभाग ने सहायक शिक्षक को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। आदेश में लिखा है कि विकासखंड पोड़ी-उपरोड़ा के खंड शिक्षा अधिकारी की ओर से प्राप्त जांच प्रतिवेदन के आधार पर यह कार्रवाई की गई है। सहायक शिक्षक का यह कृत्य छत्तीसगढ़ सिविल सेवा (आचरण) नियम 1965 के नियम 3 के विपरीत पाया गया है। जिसे देखते हुए सहायक शिक्षक प्रदीप कुमार टोप्पो के खिलाफ छत्तीसगढ़ सिविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण एवं अपील) नियम 1966 के तहत तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। निलंबन अवधि में सहायक शिक्षक टोप्पो का मुख्यालय कार्यालय विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय पाली होगा। निलंबन अवधि में उनको नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी।

परिवार को भ्रम में रखकर शिक्षक से मिला करती थी महिला

जानकारी के मुताबिक, महिला और सहायक शिक्षक की दोस्ती काफी समय से थी। दोनों को कई बार छात्रों ने आपत्तिजनक हरकत करते देखा था, जिससे वे परेशान थे। महिला के घर में इस बात की खबर नहीं थी। वह चुपचाप सहायक शिक्षक से मिलना-जुलना करती थी। जब पुलिस दोनों को पकड़कर थाने ले गई, तब जाकर महिला के घर तक भी बात पहुंची। अब ससुर ने बहू के खिलाफ कार्रवाई के लिए थाने में आवेदन लगाया है।

Previous articlePM मोदी की नसीहत, हस्तियों की जीवनी पढ़ें, उनके विचारों को जीवन में उतारें
Next articleShradha Murder: दिल्ली पुलिस ने साकेत कोर्ट में पेश की 6629 पेजों को चार्ज शीट, जानें आफताब पूनावाला पर क्या लगाए आरोप

समाचार पर आपकी राय: