वंदे भारत ट्रेन पर प्रवासी श्रमिकों के बच्चों ने की पत्थरबाजी, रेलवे फोर्स ने मौके पर पकड़ा

0
1

ऊना। नई दिल्ली से हिमाचल प्रदेश के अंब अंदोरा (Amb Andorra) के बीच चलने वाली प्रीमियम ट्रेन सेवा वंदे भारत पर पथराव की घटना सामने आई है। बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी 13 अक्टूबर को ही इस वंदे भारत ट्रेन सेवा को हरी झंडी दिखाकर शुरू किया था। जबकि करीब 1 माह के भीतर ही ट्रेन पर पथराव (Pelted Stones) की घटना सामने आ गई है।

बताया जा रहा है कि प्रवासी श्रमिकों के बच्चों (children of Migrant Workers) ने रेलवे स्टेशन से आगे खाट पर बने एक पुल से गुजरती वंदे भारत ट्रेन (Vande Bharat Train) पर निशाना लगाकर पत्थरबाजी की है। हालांकि इस घटना में किसी भी यात्री को चोट नहीं पहुंची। रेलवे पुलिस फोर्स ने स्थानीय लोगों की मदद से फौरन बच्चों को दबोच लिया है वहीं उनके परिजनों को भी तलब कर लिया गया है।

शनिवार देर शाम इस मामले को लेकर अजनोली स्थित रेलवे फाटक पर काफी गहमागहमी का माहौल रहा। जहां रेलवे पुलिस फोर्स (Railway Police Force) के अधिकारी और कर्मचारी इन बच्चों को ऐसी घटना की पुनरावृत्ति नहीं होने की हिदायत देते दिखाई दिए। जबकि स्थानीय पंचायत के प्रतिनिधियों ने भी रेलवे पुलिस फोर्स के अधिकारियों के साथ इन बच्चों और उनके परिजनों को सार्वजनिक संपत्ति की सुरक्षा का पाठ पढ़ाया।

बताया जा रहा है कि प्रवासी श्रमिकों द्वारा माफी मांगे जाने और स्थानीय पंचायत प्रतिनिधियों के हस्तक्षेप के बाद इस मामले को रफा-दफा कर दिया गया है। इस मौके पर स्थानीय पंचायत के उपप्रधान ठाकुर मंगल सिंह ने बताया कि रेलवे पुलिस फोर्स के अधिकारियों द्वारा वंदे भारत एक्सप्रेस पर पत्थरबाजी करने के आरोप में कुछ बच्चों को तलब किया गया है। वहीं उनके परिजनों को भी मौके पर बुलाकर चेतावनी दी गई है।

समाचार पर आपकी राय: