जंगल में घूम रहे संदिग्ध से चरस और चिट्टा बरामद, एनडीपीएस एक्ट में केस दर्ज

0
3

शिमला। सर्दी का मौसम शुरू होने के साथ राजधानी शिमला में नशे की तस्करी भी एकाएक बढ़ गई है। शहर व आसपास के क्षेत्रों में पिछले कुछ समय से नशीले पदार्थों की बरामदगी के मामले लगातार आ रहे हैं।

शिमला की बालूगंज पुलिस ने रविवार शाम घोडाचोकी के पास जंगल में गश्त के दौरान सन्दिग्ध अवस्था में घूम रहे एक को चरस और चिट्टा के साथ रंगे हाथ पकड़ा है। पुलिस ने युवक के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्जकर छानबीन शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार बालूगंज पुलिस की एक टीम घोडाचोकी से सटे जंगल में गश्त पर थी और शक के आधार पर आने-जाने वाली की चेकिंग की जा रही थी। इस दौरान एक युवक वहां संदिग्ध अवस्था में पाया गया। सामने पुलिस टीम को देखकर वह हड़बड़ा गया और भागने की कोशिश करने लगा। लेकिन पुलिस ने उसे थोड़ी दूरी पर दबोचा और तलाशी करने पर उसके कब्जे से 16.82 ग्राम चरस और 1.32 ग्राम चिट्टा बरामद किया। आरोपी की पहचान सोलन के कंडाघाट निवासी महावीर गुप्ता (32) के रूप में हुई है।

पुलिस अधीक्षक शिमला डॉक्टर मोनिका भूटनगरु ने सोमवार को बताया कि आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। युवक मादक पदार्थ कहां से लाया और किसको बेचने जा रहा था, इस बारे पूछताछ की जा रही है। रिमांड पर लेने के लिए उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा।

समाचार पर आपकी राय: