Air India विमान में महिला पर पेशाब करने वाले शंकर मिश्रा को बड़ा झटका, हाथ से गई नौकरी

0

पिछले साल 26 नवंबर को एयर इंडिया की न्यूयॉर्क से नई दिल्ली आ रही फ्लाइट में नशे में धुत्त होकर महिला पर पेशाब करने वाले शंकर मिश्रा की मुश्किलें बढ़ गई हैं. उनकी कंपनी वेल्स फार्गो (Wells Fargo) ने उन्हें टर्मिनेट कर दिया है. कंपनी ने बकायदा बयान जारी कर कहा है कि वेल्स फार्गो अपने कर्मचारियों से पेशेवर और निजी तौर पर उच्च व्यवहार की उम्मीद करता है. हमें यह आरोप बहुत ही परेशान करने वाले लगे. इस शख्स को वेल्स फार्गो से टर्मिनेट कर दिया गया है. हम इस मामले में जांच में पूरी तरह से सहयोग कर रहे हैं.

फरार है शंकर मिश्रा

फ्लाइट में महिला पर पेशाब करने वाले शंकर मिश्रा फरार है. उसके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी हो चुका है. दिल्ली पुलिस ने उनकी तलाश में कई टीमें मुंबई भेजी है. लेकिन वह वहां नहीं है. दिल्ली पुलिस की कई टीमें उसकी तलाश में जुटी है. ऐसे में शंकर मिश्रा के मोबाइल की लास्ट लोकेशन बेंगलुरु में मिली है.

दिल्ली पुलिस से जुड़े सूत्रों का कहना है कि तीन जनवरी को शंकर मिश्रा (35) का मोबाइल फोन बेंगलुरु में एक्टिव था. लेकिन उसके बाद उसका फोन स्विच ऑफ है. पुलिस का कहना है कि शंकर मिश्रा जांच में सहयोग नहीं कर रहा है. इस बीच दिल्ली पुलिस ने मिश्रा के परिजनों से संपर्क किया. उनसे फोन पर बात की. लेकिन परिवार भी जांच में सहयोग नहीं कर रहा है. दिल्ली पुलिस का कहना है कि शंकर मिश्रा गिरफ्तारी से भाग रहा है.

क्या है मामला?

26 नवंबर को एयर इंडिया की फ्लाइट न्यूयॉर्क से दिल्ली आ रही थी. इस विमान के बिजनेस क्लास में सफर कर रहे नशे में धुत्त शंकर मिश्रा ने एक बुजुर्ग महिला पर पेशाब कर दिया था. एयर इंडिया की फ्लाइट में इस तरह की शर्मनाक घटना के मामले के तूल पकड़ने पर डीजीसीए ने सख्ती दिखाते हुए मामले में एयर इंडिया को नोटिस भी जारी किया.

एयर इंडिया ने इससे पहले गुरुवार को डीजीसीए को रिपोर्ट भी सौंपी थी, जिसमें एयरलाइन ने यह सफाई दी थी कि आखिर क्यों घटना के एक महीने से ज्यादा बीतने के बाद भी शिकायत दर्ज नहीं की गई.

मुंबई का रहने वाला शंकर मिश्रा Wells Fargo कंपनी में वाइस प्रेसिडेंट था. यह कंपनी अमेरिका की एक मल्टीनेशनल फाइनेंशियल सर्विसेज कॉरपोरेशन से जुड़ी हुई है. दिल्ली पुलिस ने मिश्रा पर यौन उत्पीड़न और अश्लीलता की धाराओं में मामला दर्ज किया है.

एयर इंडिया ने मिश्रा पर 30 दिनों का बैन लगा दिया था. एयर इंडिया ने आरोपी के खिलाफ दिल्ली के पालम पुलिस स्टेशन में शिकायत भी दर्ज कराई है. हालांकि, इस मामले के तूल पकड़ने के बाद मिश्रा गिरफ्तारी से बचने के लिए मुंबई भाग गया. इस बीच दिल्ली पुलिस ने उसे धर दबोचने के लिए टीमों का गठन किया है.

एयर इंडिया की फ्लाइट में लगातार ऐसी हो रही घटनाओं पर सख्ती दिखाते हुए एयरलाइन के सीईओ कैंपबेल विल्सन ने कर्मचारियों से विमान पर किसी भी अनुचित व्यवहार को तुरंत रिपोर्ट करने के निर्देश दिए हैं.

उन्होंने कहा है कि स्पष्ट रूप से कुछ सबक हैं, जिन्हें हम सीख सकते हैं और सीखना चाहिए. सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि अगर हमारे विमान में किसी तरह का अनुचित व्यवहार होता है, तो हमें जल्द से जल्द अधिकारियों को इसकी सूचना देनी चाहिए. भले ऐसा लग रहा हो कि मामले में शामिल पक्षों के बीच समझौता हो गया है.

उन्होंने कहा कि हमें अपने विमानों पर अपेक्षित व्यवहार के मानक के बारे में भी स्पष्ट होना चाहिए और इन मानकों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ निर्णायक और समय पर कार्रवाई करनी चाहिए. हालांकि ऐसे कई मामले हैं जिनमें हमने ठीक यही किया है.

Previous articleAir India: विमान में महिला यात्री पर पेशाब करने का मामला, महिला को पूरे सफर में झेलनी पड़ी परेशानी
Next articleसंयुक्त राष्ट्र मिशन के तहत तैनाती के साथ ही भारतीय महिला शांतिरक्षकों ने रचा इतिहास

समाचार पर आपकी राय: