सेक्स कर रहे प्रेमी जोड़े पर 50 बोतल फेवीक्विक फेंक कर चिपकाया, फिर तांत्रिक ने किया दोनों का कत्ल, जानें क्यों किया मर्डर

0
5

जयपुर: राजस्थान पुलिस ने मंगलवार को उदयपुर में एक तांत्रिक को गिरफ्तार कर दोहरे हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने का दावा किया है। पुलिस ने बताया कि गोगुंदा थाना क्षेत्र के केलाबावड़ी के जंगलों में 18 नवंबर को सरकारी अध्यापक और उसकी महिला मित्र के निर्वस्त्र शव पाए गए थे।

शादीशुदा प्रेमियों का चल रहा था प्रेम- पुलिस

उदयपुर पुलिस अधीक्षक विकास कुमार ने बताया कि दोनों ही शादीशुदा थे और मामला प्रेम प्रसंग का लग रहा था। उनके अनुसार शवों के मिलने के बाद करीब 50 जगहों के सीसीटीवी फुटेज को खंगाला गया एवं 200 लोगों से पूछताछ की गई थी।

7-8 साल से ताबीज देने वाला तांत्रिक गिरफ्तार

उन्होंने बताया कि जांच के दौरान मिले साक्ष्यों के आधार पर संदिग्ध तांत्रिक भालेश कुमार को हिरासत में लिया गया, जिसने पूछताछ में हत्या करने का जुर्म कबूल किया है। उन्होंने बताया कि कुमार पिछले 7-8 साल से भादवी गुड़ा स्थित इच्छापूर्ण शेषनाग भावजी मंदिर में रहकर लोगों को कष्ट निवारण के लिए ताबीज बना कर देता है।

क्या है पूरा मामला

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मृतका सोनू कवर और मृतक राहुल मीणा के परिजन भी इस मंदिर में आते-जाते रहते हैं तथा मंदिर के दर्शन के दौरान ही राहुल और सोनू कंवर की दोस्ती हुई थी। उन्होंने बताया कि राहुल अपनी पत्नी से झगड़ा किया करता था जिसके बाद उसने (पत्नी ने) तांत्रिक से मदद मांगी तो तांत्रिक ने सोनू कवर से संबंधों के बारे में उन्हें बता दिया।

इस कारण तांत्रिक ने की हत्या

पुलिस के अनुसार जब राहुल और सोनू को इस बारे में पता चला तो वो तांत्रिक से नाराज हो गए और उन्होंने उसे बदनाम करने की धमकी दी थी। उन्होंने बताया कि भक्तों में बना बनाया नाम एवं पहचान खराब होने के डर से तांत्रिक ने दोनों को रास्ते से हटाने की साजिश रच डाली और उसने बाजार से 50 के करीब फेवीक्विक इकट्ठा कर ली। उन्होंने बताया कि 15 नवंबर की शाम तांत्रिक ने राहुल और सोनू को बुलाया और उन्हें एकांत जगह पर ले गया।

इस तरह से की हत्या

पुलिस के अनुसार घटनास्थल पर दोनों जब शारीरिक संबंध बना रहे थे तो वह दूसरी तरफ चला गया तथा फिर उसने इस दौरान फेवीक्विक की बोतल दोनों के ऊपर उड़ेल दी। पुलिस के मुताबिक बाद में चाकू और पत्थर से वार कर वह दोनों की हत्या कर वहां से निकल गया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि दोनों के शव 18 नवंबर को मिले थे। तांत्रिक को गिरफ्तार कर अदालत में पेश कर पुलिस रिमांड पर लिया है।

समाचार पर आपकी राय: