Covid19: शिमला में कोरोना वॉरियर सुषमा के परिजनों को मिला 50 लाख का मुआवजा

Read Time:3 Minute, 53 Second

Himachal News: कोरोना संक्रमण की पहली लहर में ड्यूटी के दौरान जान गंवाने वाली सुषमा के परिवार को केंद्र सरकार की ओर से 50 लाख रुपए की सहायता राशि जारी की है. हिमाचल प्रदेश के जिला शिमला के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नालदेहरा में अपनी सेवाएं देने वाली सुषमा की बीते साल सितंबर माह में कोरोना पॉजिटिव होने के बाद मौत हो गई थी. इसके बाद जिला स्वास्थ्य विभाग ने फ्रंटलाइनर कोरोना वॉरियर्स के तहत सरकार से राहत राशि देने की मांग की थी.मंगलवार को केंद्र सरकार ने न्यू इंडिया इंसयोरेन्स कम्पनी के तहत सुषमा के परिवार को 50 लाख रुपये की इंश्योरेंस राशि जारी कर दी है.

केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज योजना के तहत फ्रंटलाइन कोरोना वॉरियर्स के लिए 50 लाख की बीमा राशि का एलान किया था. ऐसे में यदि कोई भी कोरोना योद्धा की संक्रमण से मौत हो जाती है तो उसके परिवार वालों को 50 लाख की राशि बीमा के रूप में जारी की जाती है.

जिला शिमला में दो फ्रंटलाइनर कोरोना वॉरियर्स की मौत

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुरेखा चोपड़ा ने बताया कि जिला शिमला में कोरोना काल में ड्यूटी के दौरान दो स्वास्थ्य कर्मियों की मौत हुई थी, जिनमें से एक मिड वाइफ़ को केंद्र सरकार की ओर से राहत राशि प्रदान की गई है जबकि दूसरे मामले में कागजी कार्रवाई की जा रही है, जो इंसयोरेन्स कम्पनी की ओर से जल्द पूरी की जा रही है.उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य कर्मचारियों को केंद्र सरकार द्वारा फ्रंटलाइनर कोरोना वॉरियर्स घोषित किया गया है जिनकी कोरोना काल में ड्यूटी के दौरान मौत होने पर 50 लाख रुपए मुआवजा दिया जा रहा है.इसी के तहत प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत मिडवाइफ सुषमा को मुआवजा दिया गया है, जो 8 सितंबर 2020 को ड्यूटी के दौरान कोरोना पॉजिटिव आई थी और 18 सितंबर को उनकी मौत हो गई. जिसके बाद कोरोना वॉरियर्स के रुप मे उन्हें मुआवजा राशि जारी की गई है.

यह है दूसरा मामला

वहीं दूसरा मामला, भी जिला शिमला के कोटखाई क्षेत्र का है, वो भी मिड वाइफ़ हैं और कागजी कार्रवाई पूरी होने पर उन्हें भी मुआवजा दिया जाएगा. बता दें कि केंद्र सरकार ने बीते साल कोरोना काल में मेडिकल स्टाफ,पुलिस और सफाई कर्मचारियों को कोरोना वॉरियर्स घोषित किया था, जिसके बाद फ्रंटलाइनर कोरोना वॉरियर्स में अन्य विभागों को भी शामिल किया है जिसके तहत कोरोना काल में ड्यूटी के दौरान मरने वाले लोगों को 50 लाख रुपए का मुआवजा दिया जा रहा है.

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!