Covid Update: 30 सितंबर तक जारी रहेगी कोविड गाइडलाइन्स, त्योहारों को देखते हुए सरकार सतर्क

कोरोना महामारी (COVID-19) को लेकर किए गए सभी रोकथाम के उपाय अगले माह के अंत तक जारी रहेंगे। केंद्र ने देश भर में कोविड-19 प्रोटोकाल पालन में कमी को लेकर आगाह किया है और इस बात पर जोर दिया है कि जिन इलाकों में संक्रमण के मामले कम हैं वहां सुरक्षा के मद्देनजर नियमित तौर पर मानिटरिंग जारी रहे।

इस बाबत केंद्रीय गृह मंत्रालय (MHA) की ओर से शनिवार को नए दिशानिर्देश जारी किए गए। इसमें देशभर के राज्यों को कोविड प्रोटोकाल संबंधित जरूरी निर्देशों का पालन करने को कहा गया है।

त्योहारों के सीजन को लेकर केंद्र ने किया आगाह

आने वाले त्योहारों के सीजन को देखते हुए केंद्र ने राज्यों को सतर्क करते हुए स्थानीय प्रतिबंध लागू करने की सलाह दी है ताकि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। देशभर में जारी कोविड-19 दिशानिर्देशों को एक महीने के लिए बढ़ाते हुए केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने आज कहा कि कुछ राज्य को छोड़कर राष्ट्रीय स्तर पर महामारी के मामलों में कमी है। उन्होंने 25 अप्रैल और 28 जून को जारी किए गए एडवाइजरी का जिक्र किया और कहा, ‘संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए मामलों में बढ़त के साथ ही चेतावनी भरे संकेतों की पहचान करना अहम है ताकि इसे रोकने के लिए आवश्यक कदम उठाए जा सकें।’

कोविड प्रोटोकाल का सख्ती से हो पालन

गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों से आने वाले त्योहारों के मौसम में सतर्क रहने को कहा है। मंत्रालय की ओर से जारी दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि त्योहारों के दौरान अधिक भीड़-भाड़ न हो इसका ध्यान रखा जाए और पांच नीतियों- टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट, वैक्सीनेशन और कोविड के लिए उपयुक्त व्यवहार पर फोकस जारी रखें। इसके अलावा जिन इलाकों में संक्रमण कम है वहां सुरक्षा के लिए टेस्टिंग और मानिटरिंग जारी रखें।

केंद्रीय गृह मंत्रालय (MHA) की ओर से शनिवार को जारी किए गए निर्देशों के अनुसार अब कोविड-19 संबंधित सभी प्रोटोकाल 30 सितंबर तक जारी रहेंगे। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार आज सुबह रिकार्ड आंकड़ों में बताया गया कि 24 घंटों में देश में कुल 46,759 नए मामले सामने आए हैं, जो लगभग दो महीनों में सबसे ज्यादा है। वहीं अमेरिका की जान्स हापकिन्स यूनिवर्सिटी ने बताया कि Covid-19 के वैश्विक मामले बढ़कर 21.45 करोड़ हो गए हैं और इस महामारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 44.8 लाख हो गई है। वहीं अबतक कुल 5.12 अरब लोगों का वैक्सीनेशन हो चुका है।

error: Content is protected !!