गगरेट में निजी स्कूल के 16 शिक्षक पॉजिटिव, इलाके में हड़कंप

हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले के गगरेट क्षेत्र के एक निजी स्कूल के पूरे स्टाफ का शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कोरोना टेस्ट किया, जिसमें 16 शिक्षक पॉजिटिव आने से इलाके में हड़कंप मच गया।

स्कूल खुलने से पहले ही स्वास्थ्य विभाग की टीम ने स्कूलों में कोविड टेस्ट करने शुरू कर दिए हैं, ताकि विद्यार्थियों को संक्रमण से बचाया जा सके। यदि कोरोना के मामलों में ऐसी ही वृद्धि होती रही तो स्कूल खोलने संभव नहीं होंगे। स्वास्थ्य खंड गगरेट की नोडल अधिकारी डॉ. सुमन ने बताया कि एक निजी स्कूल के 16 शिक्षक कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। अभी और भी टेस्ट लिए जाएंगे और उनकी हिस्ट्री भी देखी जाएगी। उधर, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण घटने होने पर ही स्कूल खोले जाएंगे। सरकार इस मामले पर जल्दबाजी नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग की ओर से स्कूलों को खोलने को लेकर भेजे प्रस्ताव की उनके पास अभी कोई जानकारी नहीं है।

पड़ोसी राज्यों ने स्कूल खोले हैं। वहां कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आई है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि 14 सितंबर तक स्कूलों को विद्यार्थियों के लिए बंद रखा गया है। आजकल नौवीं से बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों की परीक्षाएं जारी हैं। जल्द इस बाबत फैसला लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के लिए कई जमीनी प्रयास किए हैं। हितधारकों तक पहुंचने के लिए कार्यशालाएं आयोजित की जा रही हैं। कुल्लू, मंडी और कांगड़ा में कार्यशालाएं हो चुकी हैं। 13 सितंबर को सोलन में होगी। सितंबर में सभी जिलों में इसे पूरा किया जाएगा। कार्यशालाओं में मिलने वाले सुझावों पर अमल किया जाएगा। ब्लाक स्तर पर भी इन कार्यशालाओं का आयोजन किया जाएगा।

ऑनलाइन पढ़ाई करवाने वाले एसएमसी शिक्षकों का वेतन जारी करने के निर्देश
प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय ने सभी जिलों उपनिदेशकों को निर्देश जारी कर ऑनलाइन पढ़ाई करवाने वाले एसएमसी शिक्षकों का वेतन जारी करने को कहा है। शिक्षा निदेशक ने बताया कि एसएमसी शिक्षक संघ की ओर से शिकायत दी गई है कि कई स्कूलों में जुलाई का वेतन नहीं दिया गया है। उन्होंने कहा कि सभी जिला उप निदेशकों को निर्देश दे दिए गए हैं कि अगर एमएमसी शिक्षकों ने ऑनलाइन पढ़ाई करवाई है तो इनका वेतन जल्द से जल्द जारी किया जाए।

इस समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें:

error: Content is protected !!