कोरोना काल के बजट में 135 करोड़ जनता के हाथ केवल झुनझुना थमाया वित्त मंत्री ने – पंडित

आम बजट रास नहीं आया, आम आदमी पार्टी को वित मंत्री निर्मला सीता रमण द्वारा पेश किया गया बजट दिशाहीन और 135 करोड़ जनता के साथ एक भद्दा मजाक है। यह कहना है आम आदमी पार्टी के मीडिया प्रभारी एन के पंडित का। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के 350 सांसद होने के बावजूद मोदी सरकार अपनी मनमानी कर रही है।

आप मीडिया प्रभारी ने कहा कि यह बजट किसानो, मजदूरों, महिलाओ और देश आयकर दाता सबको ठगा गया है। उन्होंने बजट पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि पेट्रोल पर 2.50 और डीज़ल पर 4 रूपये कृषि सैश लगाकर जनता को गुमराह किया है। पंडित ने कहा कि केंद्र सरकार कि गलत नीतियों के कारण आज पेट्रोल और डीज़ल देशी घी की कीमत पर जनता को मिल रहा है। आम आदमी पार्टी का कहना है कि पेट्रोल और डीज़ल पर कृषि सैश लगाकर किसानो और आम आदमी के साथ एक भद्दा मजाक है और आयकर स्लैब में कोरोना काल में आयकर स्लैब में कोई बदलाव ना करके आयकर दाता को कोई राहत नहीं देकर एक मजाक किया है।

पंडित ने कहा कि कोरोना काल में जनता को राहत की उम्मीद थी पर मोदी सरकार ने केवल निराश ही किया है। मीडिया प्रभारी द्वारा रेल बजट और आम बजट पर हिमाचल की अनदेखी पर मोदी सरकार को कटघरे में खड़ा करके सरकार पर जोरदार प्रहार किया है। उन्होने कहा कि यह बजट सभी देशवासीयों के लिए निराशाजनक है आम आदमी पार्टी के मीडिया प्रभारी एन के पंडित ने इस बजट की तुलना झुनझुने से की है। जिसका खामियाजा भाजपा को अभी 5 राज्यों के चुनावो में भुगतना पड़ेगा।

SHARE THE NEWS:
error: Content is protected !!