हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में भारी बारिश ने तबाही मचाई हैै। जिले की ग्रांम पंचायत पल्यूर में मंगलवार सुबह करीब सात बजे भारी बारिश के बाद साहो पल्यूर नाले में अचानक पानी का जलस्तर बहुत ज्यादा बढ़ गया। जिससे बाढ़ जैसी स्थिति पैदा गई। एक गोशाला क्षतिग्रस्त हो गई। वहीं, किसानों की जमीनों पर तेज बहाव से नालियां बन गईं। खेतों में आलू, मक्की आदि की फैसलों को नुकसान पहुंचा हैै। पल्यूर पंचायत में लोगों के घरों और गोशाला में पानी भर गया।

वहीं, पल्यूर के गणजी में दो कारें भी मलबे में दब गई हैं। जिला परिषद सदस्य सदस्य मनोज कुमार ने कहा कि नाले में बढ़े जलस्तर से पेयजल पाइपलाइन भी फट गई।

इससे भारी नुकसान हुआ है। बादल फटने से चंबा-भरमौर राष्ट्रीय उच्च मार्ग कलसूई के पास बाधित हो गया है।

हालांकि,मंगलवार सुबह बादल फटने की इस घटना से किसी तरह के जानी नुकसान की सूचना नहीं है। इससे लोगों की फसलें जमीन सहित बह गई हैं। कई लोगों के घरों में पानी घुसने से खासा नुकसान हुआ है। चंबा-भरमौर राष्ट्रीय उच्च मार्ग कलसूई के पास बाधित होने से आवाजाही पूरी तरह से ठप हो गई है। प्रशासन की टीम मौके पर पहुंच गई है। उधर,सोमवार रातभर मंडी,कांगड़ा जिला में भी जमकर बारिश हुई। इससे गेहूं की फसल को नुकसान हुआ है। मौसम विभाग के मुताबिक आज भी मौसम खराब रहेगा। हमीरपुर, कांगड़ा, ऊना, बिलासपुर, शिमला,सोलन, सिरमौर, मंडी, कुल्लू और चंबा में छह और सात मई अंधड़, ओलावृष्टि और बारिश की चेतावनी दी गई है।

error: Content is protected !!