बंदला हाइड्रो इंजीनियरिंग कॉलेज में शुरू होगी अगस्त से कक्षाएं, एआईसीटीई ने दी हरी झंडी

Read Time:2 Minute, 30 Second

हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले में बंदला हाइड्रो इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रथम वर्ष की कक्षाएं अगस्त से शुरू होंगी। ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (एआईसीटीई) ने इसके लिए हरी झंडी दे दी है। अकादमिक ब्लॉक न होने की वजह से अभी तक कक्षाएं कांगड़ा जिला के राजीव गांधी गवर्नमेंट इंजीनियरिंग कॉलेज नगरोटा बगवां में चल रही हैं। यहां दो विषयों इलेक्ट्रिकल और मेकेनिकल में 480 छात्र-छात्राएं पढ़ाई कर रहे हैं।

बंदला में कंप्यूटर साइंस, मेकेनिकल, सिविल और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई करवाई जाएगी। इस साल जुलाई पहले सप्ताह तक कक्षाएं बंदला शिफ्ट करने की योजना थी लेकिन कोविड के कारण कंपनी 30 जून तक निर्माण कार्य पूरा नहीं कर पाई।

अब अकादमिक ब्लॉक का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। इसे फाइनल टच दिया जा रहा है। कंपनी 15 अगस्त तक अकादमिक ब्लॉक तैयार कर संचालकों को सौंप देगी।

यह प्रोजेक्ट एनटीपीसी और एनएचपीसी के सहयोग से 105 करोड़ रुपये की लागत से तैयार किया जा रहा है। बंदला कॉलेज के प्रिंसिपल आरके अवस्थी ने बताया कि 15 अगस्त तक अकादमिक ब्लॉक तैयार हो जाएगा। उल्लेखनीय है कि बंदला कॉलेज में इस वर्ष मात्र प्रथम वर्ष की ही कक्षाएं शुरू होंगी। अन्य कक्षाएं नगरोटा बगवां में ही चलेंगी। हाइड्रो इंजीनियरिंग कॉलेज का पहला बैच नगरोटा बगवां में साल 2017 में शुरू हुआ था।

प्रदेश सरकार ने अगस्त में बंदला में कक्षाएं शुरू करने का लक्ष्य रखा है। कोरोना के कारण यहां कक्षाएं शुरू करवाने में देरी हुई है। लेकिन अब इसे जल्द शुरू किया जाएगा। – रामलाल मार्कंडेय, तकनीकी शिक्षा मंत्री

Your Opinion on this News:

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!