सोलन में नौकरियों के नाम पर ठगी, 30 हजार रुपए लेकर दी नौकरियां लेकिन तीन महीनों से नही मिला वेतन

सोलन. क्या कोई कंपनी नौकरी देने के एवज में पैसे लेती है…? लेकिन हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले में युवाओं के साथ कुछ एसा ही हुआ है. यहां पर युवाओं को नौकरी पर रखा गया, लेकिन बदले में उनसे 30-30 हजार रुपये लिए गए.

नेटवर्क मार्केटिंग के नाम पर बहुत से युवाओं को ठगा गया. साथ ही तीन महीने काम करने के बाद सैलरी भी नहीं दी. अब युवाओं ने कंपनी पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया है और साथ ही अपने पैसे भी लौटाने की मांग की है.

दरअसल, सोलन में एफएफटी कम्पनी ने अपना दफ्तर खोला. नौकरी का हवाला देकर बहुत से युवाओं से 30-30 हजार रुपए लिए और साथ ही कहा कि वह कंपनी में काम करेंगे तो उन्हें 20 हजार रुपये वेतन भी मिलेगा. सोलन के कायलर में एफएफटी कम्पनी का दफ्तर है और युवाओं ने यहां शुक्रवार को हंगामा किया. युवक-युवतियों ने रोष जताते हुए कहा कि कम्पनी बाहरी राज्य से आ कर भोले भाले युवाओं से नौकरी का झांसा दे कर पैसे ऐंठने का काम कर रही है. 17 साल की एक युवती ने कहा कि उसने फीस के नाम पर अपनी मां से पैसे लिए थे. लेकिन अब उसे ना सैलरी मिली है ना ही पैसे. जब कम्पनी से अपने पैसे वापिस मांगे तो उन्होंने उन्हें घटिया किस्म के कपड़े दिए और कहा कि कपड़ों को बेचो.

कम्पनी प्रबंधन का कहना है कि युवाओं को नौकरी का झांसा नहीं दिया गया है. उन्हें पहले ही मल्टी लेवल मार्केटिंग के बारे में बताया गया है. यह युवा खुद ही काम नहीं करना चाहते हैं. युवा पुलिस में भी शिकायत देकर आए थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें गलत करार देकर वापस जाने की सलाह दी है. कम्पनी को बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है.

एक अन्य लड़की ने बताया कि तीन महीने से सैलरी नहीं मिली है. वह अपनी छोटी बेटी को घर छोड़कर नौकरी करने आती थी. लेकिन अब उसे सैलरी नहीं मिली है. साथ ही उसने 30 हजार रुप जमा करवाए हैं.

SHARE THE NEWS:
error: Content is protected !!