डेढ़ साल से चच्योट तहसील को नहीं मिला नायब, लोग परेशान

Read Time:3 Minute, 15 Second

गोहर (सुभाग सचदेवा): उपमंडल के तहसील कार्यालय चच्योट स्थित गोहर में पिछले डेढ़ बर्ष से नायब तहसीलदार का पद रिक्त चला हुआ है। जानकारी के अनुसार चच्योट में तैनात नायब तहसीलदार की प्रोमोशन हो गई थी और यहां पद रिक्त हो गया था। लेकिन कार्यालय में तब से लेकर ताला लटका हुआ है। जिस ओर न तो सरकार ने ध्यान दिया न ही यहां के जनप्रतिनिधि की ओर से रिक्त पड़े पद को भरने जहमत उठाई। जिससे लोगों को आए दिन कई परेशानियों का सामना करने को मजबूर होना पड़ रहा है। क्षेत्र के लोगों का कहना है कि जनता की सहूलियतों को देख सरकार ने तहसीलदार के साथ नायब तहसीलदार के कार्यालय संचालित कर रखे हैं। मुश्किल तो तब आन पड़ती है, जब सरकारी कामकाज के लिए कार्यालय में पहुंचे लोगों को तहसीलदार के फील्ड या किसी प्रकार की बैठकें या अवकाश पर जाते हैं। ऐसी सूरत में लोगों को बिना काम करवाए बैरंग घर लौटने को मजबूर होना पड़ता है।

प्यारेलाल, जगत राम, शेर सिंह, मुरारी लाल, हेम सिंह सैनी, चिन्तराम, बीरबल, लालमन, टेक चंद, गिरधारी आदि ने कहा कि अरसा बीत जाने के बावजूद सरकार रिक्त पद को भरने की जहमत तक नहीं उठा रही है। जिससे लोगों में सरकार के प्रति आक्रोश पनपा हुआ है। उन्होंने कहा कि गोहर में ऐसा सौतेला व्यवहार क्यों जिससे जनता को परेशान होने के लिए मजबूर किया जा रहा है। कार्यालय में शपथपत्र, इकरारनामा, समझौते, रजिस्ट्री, बसीयत के कार्य अक्सर आए दिन दर्जनों के हिसाब से हो रहे हैं। कई बार कार्यालय में अधिकारी की गैरमौजूदगी में जनता को भारी नुकसान का सामना करना पड़ता है। सरकार से मांग की है कि चच्योट तहसील में रिक्त पड़े नायब तहसीलदार के पद जल्द भरने के ऑर्डर जारी करें।

उधर तहसीलदार कृष्ण कुमार ठाकुर ने कहा कि तहसील कार्यालय चच्योट में कुछ महीनों से नायब का पद खाली है। कार्यालय के कामकाज से जनता को किसी प्रकार की परेशानी न झेलनी पड़े। उसके लिए कई बार देरतक कार्यालय में बैठकर कार्य निपटाए जा रहे हैं। लेकिन कई बार अदालती आदेश व फील्ड के अन्य कार्यों के चलते लोगों को परेशानी होना महसूस हुआ है। कार्यालय में लोगों की अधिक व्यस्तता रहने के कारण एक अधिकारी का उपस्थित रहना लाजमी है।

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!