हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा 13 अप्रैल से शुरु होने वाली 10वीं व 12वीं की वार्षिक परीक्षा की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। शिक्षा बोर्ड की मानें तो प्रत्येक परीक्षा केंद्र में सी.सी.टी.वी. लगाया गया है। परीक्षा केंद्र प्रभारियों को परीक्षा केंद्रों में स्थापित सी.सी.टी.वी. कैमरों की प्रत्येक दिवस व सत्र की रिकार्डिंग एवं उनके वैकअप को सुरक्षित रखना होगा। इसमें कोई कांट-छांट/टैम्परिंग नहीं होनी चाहिए। परीक्षा के दौरान यदि किसी परीक्षा केंद्र से गड़बड़ी की शिकायत प्राप्त होती है तो स्कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा बैकअप मंगवा लिया जाएगा। स्कूल शिक्षा बोर्ड ने आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। हालांकि बोर्ड कार्यालय में कंट्रोल रुम बनाया गया है। परीक्षा केंद्रों में लगाए गए सी.सी.टी.वी. कैमरा से कंट्रोल रुम को जोड़ा गया है।

कंट्रोल रुम से परीक्षा की ऑनलाइन निगरानी होगी लेकिन नेटवर्क संबंधी समस्याओं के चलते जिन परीक्षा केंद्रों की ऑनलाइन निगरानी नहीं होगी वहां  तथा अन्य केंद्रों में लगे सी.सी.टी.वी. की फुटेज बोर्ड द्वारा मंगवाई जा सकती है जिस कारण बोर्ड ने रिकार्डिंग को सुरक्षित रखने के लिए कहा है। उधर हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड अध्यक्ष डाॅ. सुरेश कुमार सोनी ने बताया कि वार्षिक परीक्षाएं 13 अप्रैल से शुरु हो रही हैं। संबंधित परीक्षा केंद्र प्रभारियों को परीक्षा केंद्रों में स्थापित सी.सी.टी.वी. कैमरों की प्रत्येक दिवस व सत्र की रिकार्डिंग एवं उनके वैकअप को सुरक्षित रखने के निर्देश दिए गए हैं। बोर्ड के द्वारा टैक्रीकल इंवीजिलेटर की भी नियुक्ति की जाती है ताकि सी.सी.टी.वी. की प्रतिदिन की रिकार्डिंग सुनिश्चित हो सके।

error: Content is protected !!