झारखंड लोक सेवा आयोग, जेपीएससी के माध्यम से वर्ष 2008 में हुई व्याख्याता नियुक्ति घोटाले में छानबीन में जुटी सीबीआई की टीम ने मंगलवार को रांची महिला कॉलेज में छापेमारी की। सीबीआई की टीम ने अंग्रेजी की प्रोफेसर ममता केरकेट्टा को हिरासत में लेकर अपने साथ ले गई।

व्याख्याता नियुक्ति घोटाले में जांच में जुटी ममता केरकेट्टा के खिलाफ भी सीबीआई ने अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया था। सीबीआई ने 30 सितंबर 2019 को व्याख्याता नियुक्ति घोटाले में 69 आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया था, इनमें जेपीएससी के पांच अधिकारी 59 व्याख्याता शामिल है।
गौरतलब है कि जेपीएससी ने 745 लेक्चरर पद के लिए जेट परीक्षा आयोजित की थी, इसमें बड़े पैमाने पर गड़बड़ी हुई थी। कॉपी पर ओवरराइट कर अंक बढ़ाकर व्याख्याता बनाया गया था।

सीबीआई की जांच में 13 विषयों में लेक्चरर के पद पर बहाली में भ्रष्टाचार की पुष्टि हुई थी। इन विषयों में अंग्रेजी, इतिहास, मनोविज्ञान, जीव विज्ञान, राजनीति शास्त्र, अर्थशास्त्र, हिंदी, रसायन, भौतिकी, संस्कृत, मानव शास्त्र, दर्शन शास्त्र व उर्दू शामिल हैं। इन कॉपियों की फॉरेंसिक जांच भी करवाई गई। इसमें यह खुलासा हुआ कि कॉपी पर नंबर में छेड़छाड़ कर मनपसंद लोगों को पास कराया गया है। अभ्यर्थियों की मार्कशीट में अधिकारियों ने दिल खोलकर अंक भरे और उन्हें पास करवाया। जांच में काट-छांटकर नंबर बढ़ाने की भी पुष्टि हुई है।

error: Content is protected !!