अग्निवीर भर्ती में फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत करने पर होगी कड़ी कानूनी कानूनी कार्यवाही; कर्नल राजीव रंजन

0
57

अग्निवीर भर्ती प्रक्रिया में फर्जी दस्तावेज पाए जाने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। पालमपुर में आयोजित होने वाली अग्निवीर सेना भर्ती चंबा और कांगड़ा जिला के उम्मीदवारों के लिए 11 सितंबर से शुरू हो रही हैं।

सेना भर्ती कार्यालय पालमपुर के भर्ती निदेशक कर्नल राजीव रंजन ने कहा कि सेना भर्ती के दौरान यदि किसी उम्मीदवार ने फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत किए, तो उसके विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी । उन्होने कहा कि अग्निपथ भर्ती प्रक्रिया पूरी तरह से कम्प्यूटरीकृत और स्वचालित है। इस प्रक्रिया में उम्मीदवारों का सारा डेटा संग्रहित किया जाता है। किसी भी भर्ती में इस डेटा के विवरण को बारीकी से जांचा जाता है।

यदि किसी उम्मीदवार ने फर्जी दस्तावेज दाखिल किया, तो वह केवल इस एक भर्ती से नहीं, बल्कि आगे की भी, भर्ती में अयोग्य हो जाएगा, क्योंकि प्रत्येक भर्ती में उम्मीदवार का संग्रहित किया गया डेटा स्वचालित जांचा जाता हैं । यदि कोई उम्मीदवार अपना जन्म तिथि ए नाम और पता बदलते है, तो वे उम्मीदवार भर्ती प्रक्रिया के दौरान पकड़े जाते हैं, इसलिए सभी उम्मीदवारों से अनुरोध हैं कि अपने आधार कार्ड, शैक्षणिक योग्यता प्रमाण पत्र और हिमाचल अधिवास प्रमाण पत्र के साथ किसी भी प्रकार की छेडख़ानी न करें।

Leave a Reply