उबर ने जोमैटो को बेची पूरी हिस्सेदारी, 61 करोड़ शेयरों का सौदा 3088 करोड़ में हुआ

0
25

मुंबई. ऑनलाइन कैब सेवा कंपनी उबर ने जोमैटो में अपनी 7.8 प्रतिशत हिस्सेदारी बेची दी है. खुले बाजार में किए गए इस सौदे में उबर ने खाने-पीने के सामान की ऑनलाइन डिलिवरी करने वाले प्लेटफॉर्म जोमैटो में 61.2 करोड़ शेयरों को 3,088 करोड़ रुपये में बेचा है. बीएसई पर उपलब्ध थोक सौदे की जानकारी के अनुसार, उबर ने जोमैटो में अपनी 7.8 प्रतिशत हिस्सेदारी या 61,21,99,100 शेयर बेचे.

इन शेयरों की बिक्री 50.44 रुपये प्रति शेयर के औसत मूल्य पर की गई. इस सौदे का मूल्य 3,087.93 करोड़ रुपये बैठता है. फिडेलिटी इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट फिडेलिटी सीरीज इमर्जिंग मार्केट्स फंड और आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड ने कंपनी के क्रमशः 5,44,38,744 और 4,50,00,000 शेयर खरीदे.

शेयरों में भारी गिरावट

जौमैटो के शेयरों की गिरावट पिछले काफी समय से चर्चा का विषय बनी हुई है. फिलहाल पिछले तीन चार सत्र से इसमें तेजी देखने को मिल रही है. कल बुधवार को जौमैटो के शेयर एनएसई पर 55.45 रुपए के भाव पर क्लोज हुए. इसके पहले इस फूड ़डिलीवरी कंपनी के शेयर ऑल टाइम लो 40 रुपए पर पहुंच गए थे. अपने हाई से इसमें लगभग 75 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है.

कम हुआ घाटा

चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में जोमैटो का कंसॉलिडेटेड नेट लॉस घटकर 185.7 करोड़ रुपये रहा है. एक साल पहले की समान अवधि में कंपनी का घाटा 356.2 करोड़ रुपये था. वहीं, मार्च 2022 तिमाही में जोमैटो को 359.7 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में कंपनी की ग्रॉस ऑर्डर वैल्यू बढ़कर 6,430 करोड़ रुपये रही है.

Zomato का बदल सकता है नाम

जौमैटो अपना नाम भी बदलने की योजना पर काम कर रहा है. सीईओ दीपिंदर गोयल पैरेंट कंपनी को री-ब्रांड करने का प्लान बना रहे हैं. जोमैटो का नाम बदलकर ‘इटरनल’ रखा जा सकता है. ब्लूमबर्ग के मुताबिक, जोमैटो का नया नाम ‘इटरनल लिमिटेड’ (Eternal) हो सकता है. एंट ग्रुप कंपनी टेमासेक होल्डिंग्स पीटीई और गोल्डमैन सैक्स ग्रुप इंक द्वारा सपोर्टेड कंपनी जोमैटो ने एक इंटरनल मेमो में कहा है कि वह किराना-डिलीवरी स्टार्टअप ब्लिंकिट के सौदे के बाद अब ऐसी यूनिट तैयार की जा रही हैं, जिसके लिए कम से कम चार अलग-अलग सीईओ होंगे.

Leave a Reply