Right News

We Know, You Deserve the Truth…

प्रेमी ने धरने पर बैठी प्रेमिका को अपनाया, अब परिवार वाले घर में आने नही दे रहे

जौनपुर में महराजगंज क्षेत्र के केवटली गांव में प्रेमी के घर की चौखट पर अपने 20 माह के बच्चे के साथ धरने पर बैठी प्रेमिका को उसके प्रेमी ने चौथे दिन शनिवार को अपना लिया, लेकिन परिवार वालों ने घर में प्रवेश नहीं दिया। फिलहाल दोनों घर से दूर एक पेड़ के नीचे रहने को विवश हैं। सीओ बदलापुर चोप सिंह की मौजूदगी में दोनों ने लिखित रूप से साथ रहने के लिए सुलह समझौता कर लिया।

पुलिस की मौजूदगी में प्रेमी और प्रेमिका के बीच सुलह – समझौता होने के बाद शनिवार को दोनों ने घर में प्रवेश करना चाहा तो परिवार के लोगों ने रोक दिया। पुलिस ने भी दरवाजा खोलवाने का प्रयास किया किंतु परिजनों ने दरवाजा नहीं खोला।

थक हारकर पुलिस ने भी कह दिया कि अब वे रहने के लिए खुद से कोई इंतजाम कर लें। फिलहाल घर से करीब सौ मीटर दूर दोनों पेड़ के नीचे ठिकाना बनाए हुए हैं।

प्रेमी कमरुल का कहना है कि पिता ने घर में एक रूम उसे देने के लिए कहा था, लेकिन अभी उनका मोबाइल बंद आ रहा है। तीन दिन तक इंतजार करेंगे, फिर आगे के लिए कोई कदम उठाएंगे। चार दिन से धरने पर बैठी महिला को खाने पीने के लिए पुलिस ने उसकी बड़ी सास के घर इंतजाम करवाया था। सीओ चोप सिंह ने बताया कि वह खुद मौके पर पहुंचे थे। महिला के प्रेमी को मौके पर बुलवाकर दोनों के बीच लिखित रूप से सुलह – समझौता करा दिया गया। उसका पति पहले भी उसके साथ रहने के लिए तैयार था, लेकिन घर वालों के दबाव के चलते वह नहीं आ रहा था।

error: Content is protected !!