हिमाचल में भी राजनीति पार्टियों के पदाधिकारी अब गुंडागर्दी में उत्तर प्रदेश और बिहार को मात देने पर आमादा नजर आने लगे है। आए दिन किसी ना किसी पार्टी का कोई ना कोई पदाधिकारी कहीं ना कहीं गुंडागर्दी करता नजर आने लगा है। सबसे बड़ा सवाल यह है कि अगर सत्तारुढ़ पार्टी के पदाधिकारी आम लोगों को मारेंगे पिटेंगे तो उनकी रक्षा कौन करेगा।

आरोपी भाजमुयो अध्यक्ष चमन कपूर

ताजा मामला हिमाचल प्रदेश की बैजनाथ विधानसभा से सामने आया है। जानकारी के मुताबिक बैजनाथ में होली के दिन भाजमुयो के अध्यक्ष चमन कपूर और उसके साथी ने दो आम आदमी पर शराब की बोतलों से हमला कर दिया। जिसमें पीड़ित अमित कपूर और उसके जीजा मदन लाल को आंखों, सिर और अन्य जगहों पर गंभीर चोटें आई है। पीड़ितों के साथियों का कहना है कि भाजमुयो अध्यक्ष और उनके साथियों में दोनों पीड़ितों को जान से मारने की कोशिश की है। इस हादसे के बाद पीड़ित सीधे हॉस्पिटल गए जहां पुलिस ने आकर पीड़ितों के बयान लिए थे।

आरोपी का राजनीतिक रसूख

बैजनाथ पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक भाजमुयो अध्यक्ष और उसके साथियों के खिलाफ 341, 323 और 34 आईपीसी में मामला दर्ज कर लिया है। लेकिन मेडिकल में डॉक्टर से विचार विमर्श के बाद जान से मारने की कोशिश का मुकदमा दर्ज नही किया गया। भाजमुयो अध्यक्ष के खिलाफ पहले से ही कई मामले दर्ज है। लेकिन राजनीतिक रसूख के चलते आज दिन तक इस अपराधी के खिलाफ किसी भी प्रकार की कोई सख्त कानूनी कार्यवाही नही हो पाई है।

error: Content is protected !!