1990 का इतिहास बदलेगी भाजपा, जय राम ठाकुर ने कहा, हमारी कोशिश पार्टी फिर सत्ता में आए

Read Time:3 Minute, 55 Second

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि इस बार प्रदेश में बीजेपी 1990 के बाद का इतिहास बदलेगी. उन्होंने कहा कि 1990 के बाद कभी भी हिमाचल प्रदेश में दो बार एक ही पार्टी की सरकार नहीं बनी है, लेकिन हमें पूरी उम्मीद है कि बीजेपी इस इतिहास को बदल कर दूसरी बार सत्ता में वापसी करेगी. जयराम ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस को वीरभद्र सिंह की मृत्यु के बाद नेतृत्व के लिहाज से काफी नुकसान हुआ है. जहां तक मुख्यमंत्री पद का सवाल है यह पार्टी शीर्ष नेतृत्व को तय करना है कि अगला मुख्यमंत्री कौन बनेगा. जयराम ठाकुर ने कहा, ‘हमारी कोशिश सिर्फ इतनी है कि पार्टी दोबारा सत्ता में आए’.

प्रदेश में कोरोना के मुद्दे पर जयराम ठाकुर ने कहा कि पीएम मोदी से इस पर चर्चा होगी. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलकर 5 लाख अतिरिक्त वैक्सीन डोज़ की मांग रखेंगे. उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में आबादी के लिहाज से देश में हिमाचल का टीकाकरण अभियान नंबर एक है. जयराम ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश में निवेश पर्यटन पर प्रधानमंत्री से चर्चा करने की बात कही.

संक्रमण को रोकने की तैयारी

जयराम ठाकुर ने कहा कि मनाली, धर्मशाला, शिमला समेत सभी महत्वपूर्ण हिल स्टेशन पर रणनीति का कार्यक्रम बनाया है जिसके तहत यह सुनिश्चित करेंगे कि किसी एक स्थान पर ज्यादा भीड़ ना हो. मनाली की जो तस्वीरें वायरल हो रही है वह 1 साल पुरानी है. हम पर्यटकों को मास्क लगाने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं नहीं लगाने पर उन्हें मास्क हिमाचल पुलिस ही मुहैया करा रही है. हमारी पूरी सरकारी व्यवस्था इस कोशिश में लगी हुई है कि टूरिज्म पर ब्रेक ना लगे कोरोना संक्रमण न फैले. उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में हमारे प्रदेश में सिर्फ 1100 एक्टिव मामले हैं.

धर्मशाला की दुर्घटना से पर्यटकों को भयभीत नहीं होना चाहिए

जयराम ठाकुर ने कहा कि भागसु में बादल फटने की घटना हुई है, ऐसे में पर्यटकों को भी नदी नालों से थोड़ा दूर रहना चाहिए। लेकिन धर्मशाला की दुर्घटना के लिहाज से यह नहीं सोचना चाहिए कि पूरा हिमाचल ही असुरक्षित है। हमने पर्यटकों को महफूज रखने के लिहाज से उचित कदम उठाए हैं। धर्मशाला में अतिक्रमण की वजह से नहीं आई थी फ्लैश फ्लड।

चुनाव से पहले निवेश पर जोर

जयराम ठाकुर ने कहा कि हमने 13000 करोड़ के निवेश की योजना बनाई थी, इसके लिए इन्वेस्टर सम्मिट भी हुआ था. हालांकि कोरोनावायरस की वजह से कार्य नियोजन में फर्क पड़ा है, लेकिन हमारी कोशिश है कि चुनाव से पहले कम से कम 10000 करोड़ का निवेश करके दिखाया जाए जिससे रोजगार के अवसर पैदा हो.

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!