भारतीय मजदूर संघ ने ऊना में दिया धरना, उपायुक्त के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन

Read Time:2 Minute, 36 Second

भारतीय मजदूर संघ जिला ऊना का प्रतिनिधिमंडल अपनी मांगों के समर्थन में सोमवार को सड़कों पर उतरा। मजदूरों ने संघ के सचिव हरी कृष्ण की अगुआई में एमसी पार्क ऊना से लेकर डीसी परिसर तक रोष रैली निकाली। इसके बाद उपायुक्त ऊना के माध्यम से ज्ञापन प्रेषित कर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मांगों को पूरा करने की गुहार लगाई।

संघ के सचिव हरी कृष्ण ने बताया कि प्रदेश सरकार का साढ़े तीन वर्ष का कार्यकाल बीत गया, लेकिन मजदूरों को कोई चिता नहीं है। प्रदेश सरकार कर्मचारियों व मजदूरों की समस्याओं का समाधान समय रहते करे। भारी-भरकम महंगाई के बीच मजदूरी बहुत कम है। प्रदेश में न्यूनतम मजदूरी निर्धारित करने का कोई मापदंड नहीं है।

प्रदेश सरकार दैनिक मजदूरी को बढ़ाने की घोषणा करती है जो कि पर्याप्त नहीं है। उन्होंने न्यूनतम मजदूरी 18 हजार प्रतिमाह करने की मांग उठाई। इसके अलावा मई, 2003 के बाद सभी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन योजना के अंतर्गत लाया जाए, ताकि प्रदेश में सेवारत कर्मचारियों को भविष्य सुरक्षा एक समान प्रदान की जा सके। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा, सिलाई अध्यापिका, राजस्व अंशकालीन कर्मचारी, मिड-डे मील कर्मचारी, परिवहन निगम में पीस मील वर्कर, आउटसोर्स वर्कर्स को नियमित करने के लिए प्रभावी नीति बनाई जाए। मिड-डे मील कर्मचारियों की छंटनी के लिए निर्धारित 25 बच्चों की शर्त को समाप्त किया जाए तथा उन्हें छुट्टियों का वेतन भी दिया जाए। उन्होंने कहा कि यदि सरकार ने इन विषयों को गंभीरता से नहीं लिया तो संघ अगामी नीति तय करेगा।

इस अवसर पर सुमन देवी, पुष्पा देवी, अनिता शर्मा, वीना देवी, हसन बीबी, मीना, संदेश, त्रिलोक, मोहित, राज कुमार, सतनाम, परमजीत, पवन व गौरव उपस्थित रहे।

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!