पंजाब में एक युवती से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। मंडी गोबिंदगढ़ पुलिस ने एक युवती की शिकायत पर छह युवकों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज किया है। आरोपियों की पहचान परमजीत सिंह निवासी गांव भादला सदर थाना खन्ना जिला लुधियाना, गोल्डी गिल, ठेकेदार अश्वनी वर्मा, दिशा, मंगा सिंह व राजिंदर सिंह राजी के तौर पर हुई है। आरोपी राजिंदर और मंगा सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। 

Demo Pic

युवती ने शिकायत में बताया कि वह लुधियाना के एक पार्लर में काम करती है। 22 मार्च दोपहर 1:30 बजे आरोपी परमजीत सिंह उर्फ पम्मा ने उसे मंडी गोबिंदगढ़ बस स्टैंड पर बुलाया था। साढ़े तीन बजे वह उसे सफेद रंग की स्विफ्ट कार में बैठा कर मंगा सिंह फाइनेंसर चढ़दी कला फाइनेंस अमलोह रोड मंडी गोबिंदगढ़ के दफ्तर पर ले गया। वहां गोल्डी गिल, अश्वनी वर्मा ठेकेदार, दिशा पहले से मौजूद थे। आरोपी उसे दफ्तर के ऊपर वाले कमरे में ले गए और सामूहिक दुष्कर्म किया। 

जब मंगा सिंह और राजिंदर सिंह ने भी जबरदस्ती करने की कोशिश की तो उसने विरोध किया। इस पर आरोपियों ने उसे जान से मारने की धमकी दी और पीटा। थोड़ी देर बाद सभी लोग दफ्तर के नीचे आ गए। वह भी दफ्तर के नीचे आ गई और शोर मचा दिया। इसके बाद आरोपी वहां से फरार हो गए। 

युवती के अनुसार आरोपियों ने उस पर राजीनामे का दबाव भी बनाया। महिला पुलिस अधिकारी राजपाल कौर और सब इंस्पेक्टर नवनीत कौर ने पीड़िता के बयान दर्ज करके मामले की जांच एएसआई मोहन सिंह को सौंप दी है। एएसआई मोहन सिंह ने बताया कि इस मामले में दो लोगों राजिंदर सिंह व मंगा सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। 

error: Content is protected !!