अतिरिक्त उपायुक्त ऊना डॉ. अमित कुमार शर्मा ने आज डीआरडीए सभागार में सभी खंड विकास अधिकारियों के साथ बैठक कर विभाग की योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने मनरेगा, स्वच्छ भारत मिशन, एनआरएलएम सहित विभाग की अन्य योजनाओं के बारे में विस्तार से चर्चा की।

डॉ. अमित कुमार शर्मा ने कहा कि प्राकृतिक संसाधनों के प्रबंधन के साथ-साथ जल संग्रहण को अधिकारी प्राथमिकता दें। उन्होंने कहा कि विभाग की योजनाओं को जमीनी स्तर पर पहुंचाया जाए ताकि अधिक से अधिक संख्या में लोगों को लाभान्वित किया जा सके। उन्होंने कहा कि जिला में एक साल-पांच काम अभियान को शुरू किया गया है, जिसके माध्यम से एक पंचायत में एक वर्ष की अवधि के भीतर 5 बड़े कार्य किए जाएंगे, इससे ग्रामीण क्षेत्रों में बुनियादी ढांचा सुदृढ़ होगा। इसलिए इस अभियान पर विशेष ध्यान देना होगा। उन्होंने कहा कि विभाग की योजनाओं के माध्यम से लोगों की आजीविका को जोड़ने का भी प्रयास होना चाहिए। उन्होंने जिला में प्रस्तावित कूड़ा निष्पादन संयंत्रों के निर्माण के संबंध में भी जानकारी हासिल की तथा इनके निर्माण कार्य में तेज़ी लाने को कहा।

एडीसी ने कहा कि आज प्रदेश में कोरोना के मामलों में लगातार बढ़ौतरी हो रही है। इसलिए आवश्यक है कि विकास कार्यों के साथ-साथ कोविड दिशा-निर्देशों की भी अनुपालना हो। बैठक में उन्होंने पिछले वर्ष की उपलब्धियों की भी समीक्षा की तथा उन्होंने कार्यों की प्रगति पर संतोष व्यक्त किया। डॉ. अमित कुमार शर्मा ने विभाग के अधिकारियों को सफलता की कहानियों का अधिक से अधिक प्रचार व प्रसार करने के निर्देश दिए।

बैठक में परियोजना अधिकारी डीआरडीए संजीव ठाकुर के साथ-साथ सभी बीडीओ उपस्थित रहे।

-0-

error: Content is protected !!