गजब की लव स्टोरी; बांग्लादेशी महिला ने भारत में कई शादी, सीमा पार करते हुए बीएसएफ ने पकड़ा

Read Time:4 Minute, 26 Second

West Bengal News: नदिया जिले के सीमावर्ती इलाके में सीमा सुरक्षा बल ने शनिवार शाम एक भारतीय नागरिक एक बांग्लादेशी महिला को गैर कानूनी तरीके से सीमा पार करते गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार किए गए पुरूष की पहचान जयकांतो चंद्र राय,उम्र 24 वर्ष, पुत्र- नोलिनी कांतो, गांव बल्लवपुर, थाना-संतीपुर, जिला नदिया, पश्चिम बंगाल के रूप में महिला की पहचान परिणिति(काल्पनिक नाम), उम्र 18 साल, थाना- नेरेल, बंग्लादेश के रूप में हुईं. दिनांक 26 जून 2021, शनिवार शाम सीमा सुरक्षा बल की खुफिया शाखा की सूचना के आधार पर 82 वी वाहिनी की सीमा चौकी, मधुपुर के ड्यूटी पर तैनात जवानों को सतर्क किया गया. तकरीबन 1615 बजे जवानों ने सीमा सड़क पर दो लोगों को देखा.

जिन्हे रोका गया उनसे उनकी पहचान पूछी तो पुरुष की पहचान भारतीय के रूप में हुई वहीं महिला अपनी पहचान नहीं बता पाई. मामले की संदिग्धता को देखते हुए दोनों को आगे की पूछताछ हेतू सीमा चौकी, मधुपुर ले कर आए.

पूछताछ में उन्होंने बताया कि वे दोनो पति-पत्नी हैं. उनकी मुलाकात फेसबुक के जरिए हुई थी. जयकांतो चंद्र ने बताया कि वह तारकनगर के अप्पू नाम के दलाल की मदद से 08 मार्च, 2021 को बांग्लादेश गया 10 मार्च को उसने शादी की थी फिर 25 जून, 2021 तक वह बांग्लादेश में रुका. वहीं परिणीति(काल्पनिक नाम) ने अपने बयान में बताया कि वह बांग्लादेश की रहने वाली है अपने पति के साथ भारत जा रही थी. आगे उन्होंने बताया कि उन्होंने राजू मंडल नाम के बांग्लादेशी दलाल को सीमा पार करने के लिए 10 हजार बांग्लादेशी टका दिया है. गिरफ्तार किए गए लोगों को आगे की कानूनी कार्यवाही हेतु पुलिस थाना भीमपुर को सौंप दिया गया.

लव स्टोरी के मामले की हुई पुष्टि

संजय प्रसाद सिंह, 82वी वाहिनी के कामंडिंग ऑफिसर ने बयान में बताया कि गिरफ्तार लड़के लड़की से बीएसएफ की इंटेलिजेंस ब्रांच ने गहन पूछताछ के बाद मामला लव अफेयर का बताया. जिसमें भारतीय लड़के द्वारा अंतरराष्ट्रीय सीमा पार कर बांग्लादेश में जाकर शादी करने का मामला सामने आया है. श्री संजय प्रसाद ने बताया कि अक्सर मानव तस्कर नित नए तरीके अपनाकर भोली भाली लड़कियों को अपने जाल में फंसा कर देह व्यापार की दलदल में धकेल देते हैं. किसी भी प्रकार की मानव तस्करी को रोकने के लिए दक्षिण बंगाल फ्रंटियर ने एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट को बॉर्डर पर इसीलिए तैनात किया गया है. बीएसएफ सभी पहलुओं को मद्देनजर रखकर चल रही है. जिससे कि कोई गरीब व भोली-भाली लड़की का जीवन इन मानव तस्करो की भेंट न चढ़े.

Get delivered directly to your inbox.

Join 921 other subscribers

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!