उत्तर रेलवे के महाप्रबन्धक आशुतोष गंगल ने आज ऊना और अंब रेलवे स्टेशनों का वार्षिक निरीक्षण करने के साथ जिला में रेलवे विभाग द्वारा किये जा रहे कार्यों का फीडबैक लिया। इस दौरान महाप्रबंधक के साथ रेलवे के सभी विभागों के अधिकारियों का अमला भी मौजूद रहा। महाप्रबन्धक आशुतोष गंगल रेलवे के द्वारा किये जा रहे कार्यों पर संतुष्टि जताई। वहीं अधिकारियों को चल रहे कार्यों में तेजी लाने के भी निर्देश दिए। आशुतोष गंगल ने कहा कि नंगल-तलवाड़ा रेल लाइन दौलतपुर तक पहुंच चुकी है और आगे का कार्य प्रगति पर है। वहीं इस रेल लाइन को मुकेरियां के साथ जोड़ने के लिए पंजाब क्षेत्र में भूमि अधिग्रहण का काम चल रहा है। उन्होंने कहा कि ऊना रेल लाइन के मुकेरियां से जुड़ने के बाद इस पर ट्रेफिक भी बढ़ेगा। 

गंगल ने जिला ऊना में रेलवे विभाग के चल रहे कार्यों का वार्षिक निरीक्षण किया। इस दौरान उनके साथ डीआरएम उत्तर रेलवे अंबाला गुरिंदर सिंह सहित सभी विभागों के उच्च अधिकारी उपस्थित रहे। विशेष ट्रेन के माध्यम से उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक सुबह अंब -अंदोरा रेलवे स्टेशन पर पहुंचे, जहां उन्होंने रेलवे द्वारा यात्रियों को दी जा रही सुविधाओं का निरीक्षण किया। इस निरीक्षण में मुख्य रूप से यात्रियों की सुरक्षा, सुविधा, व नए कार्यों की समीक्षा की गई। उन्होंने अम्ब रेलवे स्टेशन से आगे दौलतपुर चैक स्टेशन तक हुए विकास के कार्यों की फीडबैक ली। वहीं अम्ब रेलवे स्टेशन में होने वाले आगामी कार्यों पर भी निर्देश दिए। इसके बाद ऊना रेलवे स्टेशन पर महाप्रबंधक का स्वागत किया गया।

गंगल व उच्च अधिकारियों ने रेलवे स्टेशन ऊना में नए लगाए गए 100 फीट ऊंचे तिरंगे का निरीक्षण किया और इसे बेहतरीन करार दिया। इस दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए उत्तर रेलवे के जीएम आशुतोष ने कहा कि नंगल-तलवाडा रेलवे लाइन का कार्य काफी हद तक पूरा हो चुका है और पंजाब के क्षेत्र में कुछ स्थानों पर रेलवे भूमि अधिग्रहण का काम चल रहा है, जिसमें पंजाब सरकार की सहायता ली जा रही है। जीएम आशुतोष ने कहा कि जैसे ही भूमि अधिग्रहण का कार्य पूरा होगा इस रेल लाइन को मुकेरिया तक जोड़ दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इसके बाद इस रेल लाइन का जहां राष्ट्रीय महत्व बढ़ेगा वहीं रेल ट्रैफिक भी बढ़ेगी उस समय नई ट्रेन इस रूट पर शुरू करने का प्रस्ताव रहेगा। उन्होंने कहा कि रेलवे मेंटेनेंस के ऊपर नए रेल प्रॉजेक्ट्स के रूप में उभरते स्टेट में अधिक इन्वेस्टमेंट नहीं कर पा रहा है हम जरूरत अनुसार इन्वेस्ट करेंगे ताकि पैसे का दुरुपयोग भी ना हो और व्यवस्थाएं भी बेहतर बने।

error: Content is protected !!