बागवानी मंत्री का अदभुत ज्ञान, एमएसपी नही दे सकते तो बागवानों को दे डाली यह सलाह

शिमला। हिमाचल (Himachal) के बागवानी मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर (Mahendra Singh Thakur) ने कैमरे के सामने अद्भुत ज्ञान दिया है। उनके इस ज्ञान से बागवानों से सारे संकट दूर हो जाएंगे।

उन्होंने कहा कि सेब को खुले में ले जाकर मंडियों में बेचें। इससे उन्हें पेटी का खर्चा नहीं आएगा, पैकिंग के खर्चे भी बचेंगे और ग्रेडिंग कॉस्ट भी जीरो हो जाएगी। इससे किसानों की आमद घट जाएगी, जिससे उन्हें बहुत फायदा मिलेगा। इसके साथ ही मीडिया से मुखातिब होते हुए कांग्रेस और माकपा पर तंज कसा।

बागवानी मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर द्वारा बागवानों को सेब को मंडियों के बजाय गाड़ियों में लेकर खुले में बेचने की सलाह पर कांग्रेस भड़क गई है। बागवानी मंत्री को तुरंत पद से हटाने की मांग की है। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता नरेश चौहान ने कहा कि सेब की आर्थिकी पर बहुत बड़ा संकट खड़ा हुआ है। दस दिन से सेब के दाम काफी गिर गए हैं। इस संकट की घड़ी में बागवानी मंत्री कहीं नजर नही आ रहे हैं। ना ही बागवानों की सुध लेने मंडियों में गए।

वहीं अब बागवानों से वे मजाक कर रहे है। मंत्री अदानी आढ़तियों से बात करके अच्छे दाम दिलाने की जगह बागवानों को गाड़ियों में सेब लेकर खुले में बेचने की सलाह दे रहे हैं, जोकि किसी भी सूरत में सही नहीं है। उन्होंने कहा कि बागवानी मंत्री को बागवानी के बारे में कोई जानकारी नहीं है। ऐसे में सीएम जयराम को चाहिए ऐसे मंत्री को पद से हटा दें। बागवानों की मदद करने के बजाय वे बागवानों के साथ मजाक करने में लगे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस शुरू से हो बागवानों के हितों की लड़ाई लड़ रही है।

महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस (Congress) और माकपा (CPM) के नेता राजनीतिक रोटियां सेंकने के फिराक में रहते हैं। उन्होंने कांग्रेस के सेब (Apple) पर आंदोलन करने की धमकी का जवाब दिया है। महेंद्र सिंह ने कहा कि 31 वर्ष पहले सेब का समर्थन मूल्य देने की घोषणा हुई थी। पिछली कांग्रेस सरकार तक समर्थन मूल्य 6 रुपए प्रति किलो पहुंचा। जबकि भाजपा सरकार ने तीन साल में सेब का समर्थन मूल्य ढाई रुपए बढ़ाया है। इससे पता चलता है कि किसान-बागवान हितैषी कौन है।

महेंद्र सिंह ने कहा कि सरकार बागवानों के साथ खड़ी है। उनकी समस्याओं का समाधान करने की सरकार पूरी कोशिश कर रही है। कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह ने कहा कि किसान-बागवान अच्छी तरह से जानते हैं कि कांग्रेस को उनकी कितनी चिंता है। इस समय कांग्रेस के छह-सात नेताओं में पार्टी का नेतृत्व हासिल करने के लिए मल युद्ध चल रहा है। जिसके कारण कांग्रेस नेता सरकार के खिलाफ अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं। कांग्रेस प्रदेश उपचुनाव को लेकर घबरा गई है। उसे सभी जगह हार दिख रही है।

महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस लोगों को भ्रमित कर रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रचार कर रही है कि मेरे अडानी के साथ संबंध हैं। जबकि हकीकत तो यह है कि मैंने अडानी की शक्ल तक नहीं देखी है। मैं आरोप लगाने वाले विपक्षी नेताओं को खुली चुनौती देता हूं। वे साबित कर दें। मैं या सरकार का कोई मंत्री अदानी के संपर्क में है। अगले साल विधानसभा के आम चुनाव को देखते हुए कांग्रेस के साथ माकपा नेता भी एकजुट हो गए हैं। ताकि चुनाव में किसी भी तरह के आरोप लगाकर राजनीतिक लाभ उठाया जा सके।

error: Content is protected !!