चीन के बाद दूसरे देशों में भी पैर पसारने लगा कोरोना

RIGHT NEWS INDIA: चीन के बाद अब दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है। दक्षिण अफ्रीका के नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर कम्युनिकेबल डिजीज के आंकड़ों के मुताबिक बुधवार को 10,017 नए मरीज कोरोना से प्रभावित हए।

जनवरी के बाद यह पहली बार है जब देश में कोरोना के मामले दस हजार के पार गए हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों ने चेतावनी दी है कि दक्षिण अफ्रीका कोरोना संक्रमण की पांचवीं लहर में प्रवेश कर सकता है।

जनवरी में चौथी लहर पर काबू पाने वाला दक्षिण अफ्रीका में अब पांचवी लहर का अंदेशा गहरा गया है। विशेषज्ञों ने भविष्यवाणी की थी कि दक्षिणी गोलार्ध के सर्दियों के महीनों के दौरान मई या जून में पांचवीं लहर शुरू हो सकती है। द. अफ्रीका ने अफ्रीकी महाद्वीप पर सबसे अधिक कोरोनोवायरस मामले और मौतें दर्ज की हैं।

आधी व्यस्क आबादी लगा चुकी वैक्सीन

दक्षिण अफ्रीका की लगभग 40 मिलियन वयस्क आबादी को 50% से कम को कोरोना वैक्सीन की कम से कम एक खुराक मिली है। जबकि लगभग 45% वयस्कों का पूरी तरह से टीकाकरण किया जा चुका है। हाल के महीनों में टीकाकरण की गति धीमी हो गई है, अधिकारियों ने चेतावनी दी है कि कोरोना वैक्सीन की अनदेखी महंगी पड़ सकती है।

ओमिक्रॉन का पहला मामला अफ्रीका में

बतादें कि कोविड-19 वायरस का ओमिक्रॉन वैरिएंट सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका में ही सामने आया था। ये वैरिएंट जल्द ही सारी दुनिया में फैल गया। दक्षिण अफ्रीका में बीते दिसंबर में ओमिक्रोन संक्रमण अपने चरम पर पहुंचा था। उसके बाद संक्रमण में गिरावट आई। लेकिन वहां अब फिर से कोरोना के मामले दस हजार के पार चले गए हैं।

Other Trending News and Topics:

Comments:

error: Content is protected !!