पतंजलि आयुर्वैदिक प्रोडक्ट्स देने के नाम पर धनास के व्यक्ति से 11 लाख 85 हजार की ठगी कर ली गई। आरोपियों ने ठगी की वारदात को सिर्फ 11 दिन में अंजाम दिया। ठगी का अहसास होने पर धनास स्थित हाऊसिंग बोर्ड कालोनी निवासी महेश कुमार ने मामले की शिकायत पुलिस को दी। सारंगपुर थाना पुलिस ने महेश की शिकायत पर ठगी करने वाले अवदेश कुमार के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया।

पुलिस को दी शिकायत में महेश कुमार ने बताया कि उसे पतंजलि आयुर्वैदिक के प्रोडक्ट्स की डीलरशिप लेनी थी। उन्होंने ऑनलाइन पतंजलि आयुर्वैदिक कंपनी का नंबर चैक किया। इस दौरान उसकी बात अवधेश कुमार से हुई। उसने कहा कि वह हरिद्वार स्थित पतंजलि से बोल रहा है। महेश ने कहा कि उसे पतंजलि आयुर्वैदिक लिमिटेड से डिस्ट्रिब्यूटर बनाना है। अवधेश ने कहा कि इसके लिए पहले उन्हें फीस जमा करवानी होगी।

इसके बाद आयुर्वैदिक प्रोडक्ट्स के आर्डर करवाने के लिए कंपनी में पैसे जमा करवाने होंगे। अवधेश के बताए गए अकाऊंट में महेश ने 10 से 21 जनवरी तक 11 लाख 85 हजार रुपए जमा करवा दिए। लाखों रुपए जमा करवाने के बाद भी डीलरशिप देने में देरी हुई तो उन्हें ठगी का अहसास हुआ और उन्होंने मामले की शिकायत पुलिस को दी। सारंगपुर थाना पुलिस मोबइल नंबर की मदद से ठगों की पहचान करने में लगी है।

error: Content is protected !!