हैदराबाद में विदेशों में नौकरी के नाम पर महिलाओं के साथ धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। हैदराबाद की 8 महिलाएं संयुक्त अरब अमीरात में फंस गई हैं। शहर के एक एजेंट मोहम्मद शफी ने अरब में नौकरी दिलाने के नाम पर महिलाओं को शेखों को बेच दिया।

शिकायत मिलने पर पुलिस ने आरोपी मोहम्मद शफी को गिरफ्तार कर कर लिया है। अरब में बेची गई, अमरीन बेगम, नाजिया बेगम, यासमीन बेगम, रहीमा बेगम, कनीज फातिमा, मेहरुन्निसा बेगम, आसमां बेगम और जरीना बेगम के परिवार वालों ने विदेश मंत्री एस जयशंकर को पत्र भेज कर मदद मांगी है।

जानकारी के मुताबिक है कि पिछले सितंबर और अक्टूबर में हैदराबाद की करीब 8 महिलाओं को नौकरी के नाम पर अरब भेजा गया। एजेंट शफी ने सभी आठ महिलाओं को दुबई नौकरी दिलाने का झांसा देकर विजिट वीजा पर दुबई भेजा। जब महिलाएं वहां पहुंची तो सभी आठ महिलाओं को मजदूर भर्ती एजेंसी के मालिक अल-सफीर को सौंपा गया।

प्रकाश नगर की रहने वाली बदरुन्निसा बेगम ने बताया कि उसकी दो बेटियों नाजिया और यासमीन को सितंबर और अक्टूबर में दुबई भेजा गया। दोनों के दुबई रवाना होने से पहले एजेंट ने उन्हें 8-8 हजार रुपए दिए और वादा किया कि उन्हें दुबई में हर महीने 30-30 हजार रुपए तनख्वाह मिलेगी।

दुबई पहुंचने के बाद बेटियों ने फोन कर बताया कि उनके साथ धोखा हुआ है। उन्हें शॉपिंग माल में नौकरी देने की बजाय अरब परिवारों में बेच दिया गया है। दोनों बहनों को दुबई में अल-सफीर एजेंसी की एक अज्ञात महिला ने रिसीव किया था और उसी ने अरबी परिवारों से पैसा लेकर उन्हें बेच दिया।

पुराने शहर के वट्टेपल्ली इलाके में रहने वाले ऑटो ड्राइवर मोहम्मद मकबूल ने बताया कि 40 दिन पहले रिश्तेदारों ने पत्नी को नौकरी के लिए अरब भेज दिया। एजेंट ने बताया था कि उसी दिन से पत्नी की नौकरी शुरू हो गई, जब वह हैदराबाद से दुबई के लिए रवाना हुई थी।

मकबूल के मुताबिक, दुबई पहुंचने के बाद पत्नी को 14 दिन के लिए क्वारैंटाइन में रखा गया। बाद में उसे एक अरबी परिवार में काम के लिए भेज दिया। मकबूल ने जब शफी से अपने साथ धोखा होने की बात कही तो एजेंट ने उससे कहा अगर वह पत्नी को देखना चाहते हैं तो एक लाख रुपए देने होंगे।

मजलिस बचाओ तहरीक पार्टी के प्रवक्ता अमजदुल्ला खान खालिद ने बताया कि पीड़ितों ने उनके पास आकर बेटियों के साथ हुई नाइंसाफी के बारे में बताया। विदेश मंत्रालय को इन पीड़ित परिवारों के बारे में जानाकरी दी गई है।

अमजदुल्ला ने यह भी बताया कि हैदराबाद से दुबई भेजी गई महिलाओं न तो पेटभर खाना मिल रहा है और रहने की सुविधा। उनसे 15 घंटे काम और जानवरों जैसा सलूक किया जा रहा है। उनका यौन शोषण भी किया जा रहा है। महिलाएं जब से दुबई पहुंची हैं, तब से अब तक उनकी सैलरी तक नहीं दी गई।

By RIGHT NEWS INDIA

RIGHT NEWS INDIA We are the fastest growing News Network in all over Himachal Pradesh and some other states. You can mail us your News, Articles and Write-up at: News@RightNewsIndia.com

error: Content is protected !!