दिल्ली में कोरोना महामारी (COVID-19) दोबारा बेकाबू होने से लोगों को नाइट कर्फ्यू के बाद फिर से लॉकडाउन लगाए जाने का डर सताने लगा है। दिल्ली में गुरुवार को इस साल पहली बार सभी रिकॉर्ड तोड़ते हुए कोरोना के 7000 से अधिक नए केस मिलने के बाद यहां संक्रमित मरीजों का कुल आंकड़ा बढ़कर 7 लाख के करीब पहुंच गया है। इसके साथ ही अब पॉजिटिविटी रेट भी बढ़कर 8.10 फीसदी पर आ गया है। कोरोना संक्रमण से आज 24 और मरीजों की मौत हो गई।  

दिल्ली में चल रही कोरोना की चौथी लहर के बीच बेकाबू होते संक्रमण ने कोहराम मचा रखा है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से गुरुवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, बीते 24 घंटे में जहां कोरोना के 7437 नए मरीज मिले हैं, वहीं 24 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों का कुल आंकड़ा बढ़कर 11,157 पर पहुंच गया है। बुधवार को 5506 मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई थी। 

बुलेटिन के अनुसार, आज 3687 मरीज पूरी तरह ठीक होकर कोरोना मुक्त हो गए, जबकि बुधवार को यह संख्या 3363 थी। स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि दिल्ली में अब तक संक्रमितों की कुल संख्या 6,98,005 हो गई है और 11,367  मरीज होम आइसोलेशन में हैं।  

राजधानी में अब कोरोना वायरस संक्रमण के एक्टिव केस भी बढ़कर 23,181 हो गए हैं। वहीं, अब तक कुल 6,63,667 मरीज इस महामारी को मात देकर कोरोना मुक्त हो चुके हैं। इसके साथ ही अब तक मरने वालों की संख्या 11,157 हो गई है।

दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, आज दिल्ली में कुल 91,770 टेस्ट किए गए हैं। इनमें से 52,696 आरटीपीआर/ सीबीएनएएटी / ट्रूनैट टेस्ट और 39,074 रैपिड एंटीजन टेस्ट शामिल थे। दिल्ली में अब तक कुल 15,257,183 जांचें हुई हैं और प्रति 10 लाख लोगों पर 8,03,009 टेस्ट किए गए हैं। इसके साथ ही अब दिल्ली में आज 518 नए कंटेनमेंट जोन बनाए जाने के बाद इनकी संख्या भी बढ़कर 4226 पर पहुंच गई है, जबकि बुधवार को इनकी संख्या 3708 थी। बता दें कि, मंगलवार को 5100, सोमवार को 3548, रविवार को 4033, शनिवार को 3567 और शुक्रवार को 3594 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई थी। 

इस बार युवाओं में अधिक फैल रहा संक्रमण

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने गुरुवार को कहा कि कोरोना वायरस के काफी सारे नए मामले युवाओं के हैं। दिल्ली में संक्रमण दर 6% पार गई है। इस बार कोरोना काफी तेजी से फैल रहा है, लेकिन मौतें कम हैं। दिल्ली में टीकाकरण अभियान अच्छा चल रहा है। अभी हमारे पास वैक्सीन का चार-पांच दिन का स्टॉक है। हमने केंद्र सरकार से और वैक्सीन की मांग की है, उम्मीद है वो हमें जल्द ही मिल जाएगी।

जैन ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र को लिखा था कि टीकाकरण सभी के लिए खोला जाना चाहिए। इसके साथ ही हमने 2 और अनुरोध किए हैं कि सभी वयस्कों के लिए टीकाकरण की अनुमति दी जानी चाहिए। दूसरी बात यह है कि इसे टीकाकरण के लिए अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों पर ही नहीं, बल्कि कैंप सेटिंग में भी अनुमति दी जानी चाहिए। हमें मिलकर COVID से लड़ना चाहिए। केंद्र ने आरोप लगाया कि दिल्ली में स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण कम था। हम यह भी कह सकते हैं कि केंद्र सरकार के अस्पतालों में टीकाकरण कम था। यह कोई समस्या नहीं है, मुद्दा यह है कि हम जल्द ही अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण करेंगे।

By RIGHT NEWS INDIA

RIGHT NEWS INDIA We are the fastest growing News Network in all over Himachal Pradesh and some other states. You can mail us your News, Articles and Write-up at: News@RightNewsIndia.com

error: Content is protected !!