अल्ट्राटैक सीमेंट कर्मचारियों को लेकर जा रही फैक्टरी की बस के ऊपर ट्रॉला पलट गया। हादसे महिला समेत 3 लोगों की मौत हो गई, जबकि सात लोग घायल हो गए, जिनमें दो की हालत गंभीर है। मौके पर पहुंचे पुलिस बल ने तत्काल क्रेन की मदद से ट्रॉला को हटवा कर घायलों को बाहर निकाला। घटना गुरुवार सुबह गोविंदगढ़ थाना के छुहिया घाटी में हुई। बताया जाता है कि सड़क संकरी होने के कारण क्रॉसिंग करते समय हादसा हुआ। घायलों को रीवा संजय गांधी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

DSP वीपी सिंह ने बताया, रोजाना की तरह अल्ट्राटैक सीमेंट प्लांट बघवार थाना रामपुर नैकिन की बस सुबह रीवा से कर्मचारियों को लेकर फैक्टरी जा रही थी। सुबह करीब 8 बजे बस गोविंदगढ़ थाने के छुहिया घाटी पर पहुंची। इसी दौरान कंपनी का ही ट्रॉला सामने से आ रहा था। तेज रफ्तार ट्रॉला मोड़ पर क्रॉसिंग करते समय अनियंत्रित होकर बस के ऊपर ही पलट गया। हादसे में बस के पीछे का करीब आधा हिस्सा ट्रॉला की चपेट में आ गया, जिससे उसमें सवार लोग नीचे दब गए। हादे से में प्रतिभा पांडे (40) , गिरीश पांडे (42) और रंजन प्रसाद मिश्रा (46) की मौत हो गई। घटना में आबिद खान, शशिभूषण सिंह राठौर, अंजना शर्मा, गीतांजलि वर्मा, नीता मिश्रा, पद्मकान्त शुक्ला, अनीस खान घायल हो गए।

बताया जाता है कि ट्रॉला में गर्म क्लिंकर (राखड़) भरा था। ट्रॉले में भरा क्लिंकर बस में भर गया, जिससे उसमें सवार लोग झुलस गए। सूचना मिलते ही गोविंदगढ़ थाने से पुलिस बल मौके पर पहुंचा। सूचना पर मौके पर एसपी राकेश कुमार सिंह भी पहुंचे। स्थानीय लोगों समेत मशीनों की मदद से ट्रॉला को हटवाकर घायलों को निकाला गया। घटना के बाद मौके पर करीब तीन घंटे तक जाम लग गया। मृतकों के परिजन कंपनी से मुआवजे की भी मांग कर रहे हैं।

error: Content is protected !!