हिमाचल के बागबानों के पैदा की सेब की नई किस्म, सरकार ने दी मान्यता

कोटखाई के प्रगतिशील बागवान प्रेम चौहान द्वारा ईजाद की गई सेब की नई किस्म एप्स एप्पल को भारत सरकार ने मान्यता दे दी है। देशभर में आज तक किसी किसान ने यह उपलब्धि हासिल नहीं की है। उन्होंने देशभर में हिमाचल का नाम रोशन किया है। दरअसल अनुसंधान का यह काम बागवानी विशेषज्ञ का होता है, लेकिन कोटखाई के बागवान ने नई वैरायटी खोज कर किसानों का मान बढ़ाया है। बागवानी एवं वाणिकी विश्वविद्यालय नौणी के जरिए एप्स एप्पल को पेटैंट के लिए भारत सरकार को प्रस्ताव भेजा गया था। बीते साल जुलाई महीने में आईसीएआर के वैज्ञानिक प्रेम चौहान के बगीचे का निरीक्षण करने पहुंचे थे। इनकी रिपोर्ट के आधार पर प्रेम चौहान द्वारा खोजी गई नई किस्म को भारत सरकार ने पहचान दी है।

प्रेम चौहान आज पूरे प्रदेश के युवाओं के लिए रोल मॉडल बनकर उभरे हैं। उन्होंने बताया कि 16-17 साल की मेहनत के बाद सेब की नई किस्म ईजाद की गई है। आज इसे भारत सरकार ने नई पहचान दे दी है। अन्य किस्मों की तुलना में एप्स एप्पल के दाम भी दोगुना अधिक मिले रहे हैं। क्वालिटी और उत्पादन भी इसका दोगुना है। फल एवं सब्जी उत्पादक संघ के प्रदेशाध्यक्ष हरीश चौहान ने प्रेम चौहान को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है।

Leave a Reply