हिमाचल में 8 दवाओं सहित देश में 17 दवा सैंपल फेल

सोलन: देश में हिमाचल की 8 दवाओं सहित 17 दवाओं के सैंपल फेल हुए हैं। केंद्रीय दवा मानक नियंत्रण संगठन (सी.डी.एस.सी.ओ.) ने इस माह का ड्रग अलर्ट जारी किया है। सी.डी.एस.सी.ओ. ने देश में 1001 दवाओं के सैंपल लिए थे जिसमें से 985 दवाओं के सैंपल गुणवत्ता के मानकों पर खरे उतरे हैं जबकि 17 सैंपल फेल हुए हैं। इसमें एक सैनिटाइजर का सैंपल भी फेल हुआ है, जिन दवाओं के सैंपल फेल हुए हैं उनमें हार्ट, बी.पी., उल्टी व एंटीबायोटिक दवाएं शामिल हैं। प्रदेश में सबसे अधिक बी.बी.एन. की 5, सोलन, पांवटा साहिब व ऊना के टाहलीवाल की एक-एक दवा के सैंपल फेल हुए हैं।

सी.डी.एस.सी.ओ. के अनुसार मैसर्ज कोरोना रैमेडीज प्राइवेट लिमिटेड की ऑनटिक सिरप का बैच नंबर सी.एल. 19136, मैसर्ज जी लैबोरेटरीज इंडस्ट्रीयल एरिया पावंटा साहिब का नाइटॉज 2.6 का बैच नंबर 419-1544, मैडिपोल फार्मास्यूटिकल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड की अमीट्रिप्टीलिने का बैच नंबर टी.ए.एम.एफ.- 026, ऑस्पर फार्मुलेशन प्राइवेट लिमिटेड झाड़माजरी की अनसेफ एक जी.एम. का बैच नंबर 13018 ए, लैगसी रैमेडीज प्राइवेट बद्दी का स्टेरिल वाटर का बैच नम्बर 1902022, यादव हैल्थ एवं ब्यूटी हर्बल प्रोडक्टस बद्दी का डेज 2 एक्स हैंड सैनिटाइजर का बैच नंबर बी.वाई.एच.एस. 29, हॉस्टस बायोटैक प्राइवेट टाहलीवाल की डॉक्सीसाइक्लीन एंड लैक्टिक एसिड बैकिल्लूस कैप्सूल बैच नंबर एच.बी.सी. 4052 व मेडिपोल फार्मास्यूटिकल इंडिया प्राइवेट बद्दी की क्लोपीडोगरेल एंड एसप्रिन का बैच नंबर टी.ए.सी.बी. – 013 का सैंपल फेल हो गया है।

बद्दी के एक ही उद्योग के 2 सैंपल हुए फेल
बद्दी की मैडिपोल फार्मास्टिकल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड भूड की दो दवाओं के सैंपल फेल हुए हैं। इससे अब उद्योग में बन रही दवाओं पर सवाल खड़े हो गए हैं। अमीट्रिप्टीलिने व क्लोपीडोगरेल एंड एसप्रिन के सैंपल फेल हुए हैं।

राज्य दवा नियंत्रक बद्दी नवनीत मारवाह का कहना है कि प्रदेश में जिन उद्योगों की दवाओं के सैंपल फेल हुए हैं। उन्हें नोटिस जारी किए जा रहे हैं। यही नहीं जिस बैच नंबर के सैंपल फेल हुए हैं, उनके स्टॉक को बाजार से रिकॉल करने के निर्देश दिए गए हैं। ऐसे उद्योगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी जिनकी दवाओं के बार-बार सैंपल फेल हो रहे हैं।