राजेश धर्माणी द्वारा स्वीकृत सड़क निर्माण को मंत्री ने रोका; स्थानीय जनता

ग्राम पंचायत घुमारवीं से अलग होकर नई बनी ग्राम पंचायत दकड़ी के लोगों ने आरोप लगाया है कि बल्ही से चुवाड़ी न ई बन रही सड़क को जानबूझकर ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है। प्रैस को जारी बयान में पवन जम्वाल,माला देवी, संजीव कुमार,प्रकाश चंद, सुखदेव, जगरनाथ व रत्न लाल ने बताया कि इस सड़क का कार्य पूर्व विधायक राजेश धर्माणी ने शुरू करवाया था। यह प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अधीन स्वीकृत है तथा इस दो किलोमीटर सड़क के लिए लगभग एक करोड़ अस्सी लाख रुपए विभाग के पास जमा है।

इसका ट्रेस लगभग चार साल पहले बन गया था तथा टेंडर भी लगभग तीन साल पहले हो चुका है। लोग जमीन की गिफ्ट डीड भी विभाग के पास ले चुके हैं तथा वन विभाग से भी इसके लिए काफी पहले मंजूरी मिल चुकी है। फिर भी काम लटका हुआ है इन्होंने कहा कि यह सब राजनीतिक षड़यंत्र के तहत किया जा रहा है ताकि चुनाव के नजदीक इस काम को किया जाए। ताकि मंत्री इस का श्रेय ले सकें।

इन्होंने कहा कि जनता सब जानती है कि इस सड़क के लिए किस का कितना योगदान रहा है। जहां इस सड़क को अमलीजामा पहनाने का श्रेय राजेश धर्माणी को जाता है, वहीं इसे लटकाने का सारा श्रेय मंत्री महोदय को जाता है। अगर मंत्री चाहते तो यह सड़क विभाग द्वारा तय समय 2019 में बन कर तैयार हो जाती। इन्होंने कहा कि इस सड़क पर अब वाहन चलाना मुश्किल हो गया है। जिस कारण लोगों को भारी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। अगर विभाग ने जल्दी ही इस कार्य को शुरू नहीं किया तो ग्रामीणों को साथ लेकर विभाग का घेराव किया जाएगा। उन्होंने विभाग से भी मांग की कि काम को लटकाने के लिए ठेकेदार पर भी कानूनी कार्रवाई की जाए।